मुंह के कैंसर के लक्षण व कारण – Mouth Cancer Symptoms in Hindi

मुंह के कैंसर के लक्षण और शुरुआती पहचान

Early Mouth Cancer Symptoms in Hindi

तंबाकू चबाने वाले हर दूसरे व्यक्ति में मुंह के कैंसर के लक्षण आमतौर पर देखने को मिल जाते हैं| रिसर्च की मानें तो मुंह का कैंसर के लक्षण जिन लोगों में पाये जाते हैं उनमें से 90% लोग तंबाकू खाने वाले ही होते हैं| भारत में बिहार, उड़ीसा और झारखण्ड राज्यों में मुंह के कैंसर के सबसे ज्यादा मामले पाये जाते हैं| इसका मुख्य कारण यह है कि इन राज्यों के लोग तंबाकू का सेवन ज्यादा करते हैं|

आमतौर पर तंबाकू खाने वाले लोग अपने गाल में तंबाकू लगा लेते हैं और घंटों उसका सेवन करते हैं| मुंह के इसी हिस्से में कैंसर होने की सम्भावना सबसे ज्यादा बढ़ जाती है| वैसे तंबाकू खाने वाले लोग खुद ही समय – समय पर अपना परिक्षण भी कर सकते हैं और परिक्षण करने का तरीका हम आगे आपको बताएँगे|

कैसे होता है मुंह का कैंसर –

पिछले कुछ समय में संसार के बहुत सारे युवा वर्ग के लोग मुंह के कैंसर की चपेट में आ रहे हैं| शुरुआत में तो व्यक्ति इन्हें नज़रअंदाज़ कर देता है लेकिन जब समस्या बड़ी हो जाती है और इसका पता चलता है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है|

इसलिए सबसे पहले तो आप ये कारण जानिए कि ये मुंह का कैंसर होता क्यों है –

आनुवंशिक – अगर आपके परिवार में किसी को पहले से मुंह के कैंसर की बीमारी है तो आपको भी कैंसर होने की सम्भावना बढ़ जाएगी| कई ऐसे केस देखने में आये हैं जहाँ लोगों को आनुवंशिकता की वजह से कैंसर हो गया है|

तंबाकू खाना – मुंह के कैंसर का यह सबसे मुख्य कारण है| मुंह के कैंसर के 90% मरीज तंबाकू चबाने वाले ही होते हैं| अधिक और असमय तंबाकू खाने वाले लोग इस कैंसर की चपेट में जल्दी आते हैं|

धूम्रपान – जी हाँ, अगर आप धूम्रपान के आदी हैं तो सावधान हो जायें आपको भी मुंह के कैंसर का खतरा है| कुछ लोग चेन स्मोकर होते हैं जिनके हाथों में हमेशा सिगरेट लगी रहती है तो ऐसे लोग मुंह के कैंसर के आसानी से शिकार बन जाते हैं|

खराब भोजन – डॉक्टर हमेशा सलाह देते हैं कि बाहर का खाना ना खायें लेकिन जो लोग घर से बाहर रहते हैं वो रोजाना होटल या ढाबे का खाना खाते हैं| कभी-कभी बाहर खाना तो चल जाता है लेकिन रेगुलर इस तरह का खाना भी आपको मुंह का कैंसर दे सकता है|

अत्यधिक शराब – अधिक मात्रा में एल्कोहल का सेवन भी आपके लिए मुंह के कैंसर का खतरा बढ़ा सकता है| शराब अगर पीते हैं तो उचित मात्रा में ही सेवन करें अन्यथा आप इस कैंसर की चपेट में आ सकते हैं|

मुंह के कैंसर के शुरुआती लक्षण –

मुंह का कैंसर किन कारणों से होता है ये तो हम आपको ऊपर बता ही चुके हैं, तो अब जानिए कि मुंह के कैंसर के लक्षण क्या हैं और कैसे आप इनकी पहचान कर सकते हैं –

Muh Ke Cancer Ke Lakshan

मुंह ना खुल पाना – डॉक्टर कहते हैं कि जिस व्यक्ति का मुंह 3 सेंटीमीटर से कम खुलता है या मुंह को 3 सेंटीमीटर से ज्यादा खोलने में दिक्कत महसूस होती है तो यह आपके अंदर मुंह के कैंसर का लक्षण है|

इसका आसान परीक्षण करने के लिए आप अपना मुंह पूरा खोलें और अपनी चार उँगलियाँ मुंह में घुसाने की कोशिश करें| अगर आपके मुंह में चार उंगलिया नहीं घुस पा रही या आपको जबड़ा खोलने में तकलीफ महसूस हो रही है तो जल्दी ही अपनी डॉक्टर से जांच करा लें क्यूंकि यह कैंसर का शुरूआती लक्षण है|

खाना निगलने में तकलीफ होना – अगर कभी आपको खाना निगलने में परेशानी आ रही हो तो यह एक आम बात हो सकती है जो कुछ ही दिन में सही हो जाएगी लेकिन अगर आपको लगातार ये परेशानी रहे तो यह आपके लिए चिंता का विषय है| खाना निगलने में परेशानी होना भी कैंसर का एक लक्षण है|

मुंह में लाल या सफ़ेद दाग – नियमित रूप से अपने मुंह की देखरेख करें| अगर आपको मुंह के अंदर कभी लाल या सफ़ेद दाग दिखें तो फ़ौरन जांच करायें क्यूंकि यह कैंसर की निशानी है|

मुंह में छाले – यूँ तो छाले कई बार हमारे मुंह में भी पड़ जाते हैं जो कुछ दिन में या तो अपने आप सही हो जाते हैं या फिर आप कोई दवाई खाकर भी सही कर सकते हैं| अगर आपके मुंह के छाले लम्बे समय से ठीक नहीं हो पा रहे और दवाइयों के इस्तेमाल के बाद भी छालों में आराम नहीं है तो आपको कैंसर होने की सम्भावना बढ़ जाती है| मुंह में लगातार छाले रहना कैंसर का शुरूआती लक्षण है|

मुंह से बदबू आना – कई बार जब हम प्याज या कुछ और चीज़ खाते हैं तो मुंह से बदबू आने लगती है| यह एक सामान्य बात है लेकिन आपके मुंह से अगर हमेशा ही बदबू आती है तो प्लीज एक बार डॉक्टर से अपने मुंह का चेकअप जरूर करा लें क्यूंकि यह भी कैंसर की ही निशानी है|

मुंह या जीभ पर गांठ होना – आमतौर पर मुंह, जीभ या गाल में किसी भी प्रकार की कोई गाँठ नहीं होती है| अगर किसी व्यक्ति के मुंह, जीभ, होंठ या गाल में कोई छोटी या बड़ी गाँठ बन गयी है तो यह चिंता का विषय है क्यूंकि यह भी मुंह के कैंसर का शुरूआती लक्षण है और इसकी जांच बेहद जरुरी है|

मुंह से खून आना – मुंह से रक्त आना सामान्य बात नहीं है| अगर कभी कभार ऐसा हुआ हो तो कोई दिक्कत नहीं है लेकिन अगर मुंह से बिना वजह ही अक्सर आपके खून निकलने लगे तो सावधान हो जाइये यह कैंसर की पहचान है|

जीभ पर मिर्च ज्यादा लगना – अक्सर तीखी चीज़ें खाने से जीभ पर मिर्च लगने लगती है लेकिन अगर आपको कम मिर्ची वाली सब्जी में भी बहुत ज्यादा मिर्च लगने लगती है तो यह आपके लिए खतरे की निशानी है| अपनी जाँच कराएं क्यूंकि आपको मुंह का कैंसर हो सकता है|

मुंह में घाव होना – अगर मुंह में घाव है तो यह कुछ ही दिन में सही हो जाना चाहिए| अगर आपका घाव लाख कोशिशों के बाद भी ठीक नहीं हो रहा है तो समझिये आप कैंसर की चपेट में आ सकते हैं| मुंह के घाव का ठीक ना होना भी कैंसर की पहचान है|

मुंह में सुन्न जैसा होना – कैंसर की सबसे बड़ी पहचान है कि रोगी को अक्सर मुंह में सुन्नता का अनुभव होता है| कुछ समय बाद यह सुन्नता अपने आप सही हो जाती है और फिर से कुछ समय में मुंह और जीभ सुन्न हो जाते हैं|

यह सभी मुंह के कैंसर के शुरूआती लक्षण थे| अगर किसी व्यक्ति को अपने अंदर इस तरह का कोई भी लक्षण दिखाई दे तो अपनी जांच अवश्य करायें|

मुंह के कैंसर के रोगी के लिए घरेलू उपचार –

वैसे तो मुंह के कैंसर का सही उपचार एक डॉक्टर ही कर सकता है| यह एक जानलेवा बीमारी है और इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए क्यूंकि आज अगर लापरवाही बरती तो आने वाले समय में परिणाम गंभीर भी हो सकते हैं|

आइये हम आपको कुछ व्यायाम बताते हैं जो मुंह के कैंसर के रोगी के लिए लाभकारी हैं –

शंख बजायें – शंख बजाने से मुंह और उससे जुड़ी सभी मांसपेशियों को भरपूर जोर लगाना पड़ता है| आप रोजाना शंख बजाएं, इससे आपके मुंह की मांसपेशियां मजबूत होंगी|

गुब्बारे फुलायें – ये काम आपको अटपटा लग रहा होगा लेकिन गुब्बारे फुलाना, मुंह के कैंसर के रोगियों के लिए एक कारगर व्यायाम है|

मुंह में पानी भरें – अपने मुंह हो पूरा खोलने की कोशिश करें और मुंह में पानी भर लें कुछ देर तक मुंह में पानी भरकर ऐसे ही रहें| बाद में कुल्ला कर दें और यह क्रिया नियमित रूप से करने पर लाभ होता है|

मित्रों इस लेख में हमने आपको मुंह के कैंसर के सभी शुरूआती लक्षणों के बारे में बताया है| यह एक गंभीर बिमारी है इसलिए इस लेख को आप अपने तक ही सीमित ना रखें बल्कि अपने सगे सम्बन्धियों के साथ भी शेयर करें क्यूंकि हो सकता है यह लेख किसी के जीवन को बचाने के काम आये|

अगर आप में इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई दें तो सबसे पहले तंबाकू का सेवन बंद करें और अच्छे स्पेशलिस्ट डॉक्टर से जाँच करायें ताकि आप सुरक्षित रहें| जब आप सुरक्षित रहेंगे तब तक ही आपका परिवार भी सुरक्षित और खुशहाल रहेगा| धन्यवाद!!

ये टिप्स पढ़े क्या –
तेजी से वजन घटाने वाले व्यायाम
एचआईवी के लक्षण और बचाव
वजन कम करें मात्र 7 दिनों में
इलायची के 17 चमत्कारी गुण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Close