एक गिलास दूध Short Story on Kindness in Hindi

be-kindएक गरीब लड़का घर-घर जाकर सामान बेचता था ताकि वह अपनी पढ़ाई कर सके और स्कूल की फीस भर सके| एक दिन उसके पास सिर्फ एक रूपया ही बचा, उसे बहुत भूख लग रही थी| वह एक घर के करीब पहुंचने वाला था उसने सोचा कि इस घर पर जाकर खाने के लिए कुछ मांगू।

एक औरत ने दरवाजा खोला| जब औरत ने उस लड़के की तरफ देखा तो वह समझ गयी कि यह बहुत भूखा है| फिर उसने एक दूध का गिलास लाकर दिया, उस लडके ने दूध पीने के बाद कहा कितने पैसे हुए?

औरत ने कहा, तुम यह खरीद नहीं सकते, मुझे मेरी माँ ने सिखाया है कि कभी गरीब इंसानो से पैसे नहीं लेना चाहिए| लड़का बोला, फिर तो मैं आपको दिल से धन्यवाद देता हूँ, और कहा अब मैं शारीरिक रूप से ही स्वस्थ नहीं हूँ बल्कि मेरी परमात्मा में भी आस्था बढ़ी है| उस लडके का नाम Howard Kelly था |

बहुत साल बीत गए, एक दिन उस औरत की तबियत बिगड़ गयी| स्थानीय डॉक्टर भी उसकी मदद नहीं कर पाये | इसलिए उन्होंने उसे बाहर शहर में भेज दिया ताकि उसकी बीमारी का सही ढंग से इलाज हो सके | उस हॉस्पिटल में इलाज के लिए Dr Howard Kelly को बुलाया गया था |

जब वह उस औरत के कक्ष में गए तो उस लड़के ने झट से उस औरत को पहचान लिया, जिसने उस पर दया की थी, जब वह गरीब था और घर-घर सामान बेचने जाता था | उस लडके ने औरत को बीमारी से उबरने में मदद करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ करने की ठान ली थी|

उनका परिश्रम लम्बा चला लेकिन उन्होंने अंत में बिमारी पर विजय पा ली, कुछ देर बाद उस औरत को हॉस्पिटल का बिल भरने को कहा गया | वह औरत चिंतित हुई क्यूंकि उसके पास बिल चुकाने के लिए इतने पैसे नहीं थे, उसकी पूरी जिंदगी की कमाई भी इस इलाज के लिए कम थी |

अंत में जब महिला ने बिल को ठीक से देखा तो उसने कुछ शब्दों को पढ़ा जो कि बिल के एक तरफ लिखे थे| वहां लिखा था : एक गिलास दूध का पूरा भुगतान कर दिया |

दोस्तों जहाँ लोगों में दया की भावना होती है वहाँ ईश्वर का वास होता है। अगर आप आज किसी की मदद करेंगे तो यकीन मानिये कल जब आपको मदद जरुरत होगी तो ईश्वर आपकी मदद जरूर करेंगे। दूसरों की मदद करके आप असल में खुद की ही मदद कर रहे होते हैं।

दोस्तों आप लोगों को motivate करने के लिए HindiSoch.Com की तरफ से बेहतर से बेहतर प्रयास किये जाते हैं। आपके हर कहानी पर किये गए कॉमेंट और शेयर, हमें और अच्छा करने के लिए प्रेरित करते हैं तो आप लोगों से एक गुजारिश है कि जब भी आप हिंदीसोच कोई आर्टिकल या कहानी पढ़े तो उसे अपने फेसबुक और ट्विटर पर जरूर शेयर करें और नीचे कॉमेंट बॉक्स में अपनी राय जरूर दें।

धन्यवाद!!!!

ये सुंदर कहानी हमें गौरव जी ने भेजी है, गौरव जी के बारे में –

Name- Gaurav
Blogging on http://hindimind.in
Interest in – I like to wright articles this is my passion

Related Articles

33 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close