अपनी नींव को बनायें मजबूत Life Lessons for Students in Hindi

Life Lesson in Hindi for Students to Achieve Success

मकान दिखने में कितना भी सुन्दर क्यों ना हो, मकान में इमारतें चाहें जितनी ऊँची हों लेकिन मकान का भविष्य और मकान की मजबूती उसकी नींव पर निर्भर करती है|

नींव बनने में ही सबसे ज्यादा समय और मेहनत लगती है| एक बार अगर नींव मजबूत बन जाये तो फिर कितनी भी ऊँची मंजिलें बना दो लेकिन अगर नींव मजबूत ना हो हलकी आंधी भी मकान गिरा देती है|

तो मित्रों ठीक वैसा ही मकान है आपका कैरियर और आपका जीवन…

अगर आपने अपने विचार अच्छे रखे हैं, अपने स्कूल समय में अच्छी पढाई की है और खुद को अनुभव की धार से तराशा है तो आपकी जिंदगी भी एक शानदार इमारत की तरह है जिसे तूफान भी हिला नहीं सकता|

आप चाहे कोई भी कैरियर चुन लीजिये लेकिन अगर आपकी नींव मजबूत नहीं है तो आप सफल नहीं हो सकेंगे|

अगर कोई व्यक्ति डॉक्टर बनना चाहता है तो उसे पहले डॉक्टरी की पढाई करनी पड़ती है यही पढाई आपकी नींव को मजबूत बनाती है| कोई भी व्यक्ति रातों रात टाटा बिड़ला नहीं बनता, सबको पहले अपनी नींव मजबूत करनी पड़ती है|

अपनी नींव को मजबूत बनाने के लिए आपको हो सकता है 3 -4 साल लग जायें| लोग IAS बनने से पहले सालों तक कठिन मेहनत करते हैं लेकिन एकबार अगर नींव मजबूत हो गयी तो फिर आपको कोई रोकने वाला नहीं है|

आप कोई भी कैरियर चुन लीजिये, सबसे पहले उसकी बारीकियों को जानिए, पढाई कीजिए ताकि आपकी नींव मजबूत हो फिर देखिये बहुत जल्दी आपका नाम सबसे सफल लोगों में लिया जायेगा|

ये कहानी जरूर पढ़ें – 2 दोस्तों की कहानी – एक सफल दूसरा विफल पर क्यों ?

सफलता कैसे पाएं – लक्ष्य- सफलता का सूत्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

4 Comments

  1. यही बात ब्लॉग्गिंग के लिए भी फिट बैठती है कि अगर आपकी ब्लॉग्गिंग में नींव मजबूत नही होगी तो कभी भी आप बिखर सकते है | पवन जी , मैं आपका ही उदाहरण लेता हु आप भी रातोरात तो ब्लॉग्गिंग में इस मुकाम तक नही पहुच गये , आपको भी काफी वर्ष लगे लेकिन आपकी अब नींव इतनी मजबूत है कि आप चाहे जितनी ऊँची मंजिल खडी कर सकते है |

    1. राजकुमार जी सही कहा आपने हिंदीसोच पर पहले एक साल में मात्र 500 pageviews प्रतिदिन ही हुआ करते थे और वह मेरा learning period था

  2. बिल्कुल सही बात है जब नींव मजबूत होगी तभी इमारत मजबूत होगी । इसलिए यदि किसी subject मे हमारा basic knowledge अच्छा है तो हम उस मे अच्छा काम कर सकते है ।

Close