Ek Kadwa Sach एक कड़वा सच : भिखारी की कहानी

old-beggarमनोज जब रोजाना बस स्टैण्ड से गुजरता तो एक भिखारी को रोज देखता। वो भिखारी आते जाते लोगों के आगे हाथ जोड़ता और कुछ मांगने की कोशिश करता। मनोज उसे देखकर बड़ा दुःखी होता था।

वो भिखारी एक वृद्ध था। देखने में ऐसा लगता जैसे ना जाने कितने दिनों से भरपेट भोजन तक नहीं मिला लो। शरीर में सिर्फ हड्डियों का ढांचा रह गया था। जब भी कोई व्यक्ति उसके पास से गुजरता तो वो बड़ी आस से उसकी तरफ देखता।

एक दिन मनोज से उस वृद्ध की दशा देखी नहीं गयी उसने मन में सोचा कि हे ईश्वर इस भिखारी को अपने पास क्यों नहीं बुला लेता, कितनी दयनीय दशा हो गयी है इसकी। ऐसे ही सोचते हुए मनोज भिखारी के पास गया और बोला – बाबा मैं काफी समय से रोज आपको यहाँ बैठे हुए देखता हूँ , आपकी दशा इतनी खराब हो चुकी है फिर भी आप जीना क्यों चाहते हैं ?

क्यों रोजाना यहाँ भीख मांगते हैं? आप ईश्वर से प्रार्थना क्यों नहीं करते कि वह आपको अपने पास बुला ले।

भिखारी ने मुस्कुरा के मनोज की तरफ देखा और बोला – बेटा चाहता तो मैं भी यही हूँ कि जल्दी ही ईश्वर अपने पास बुला ले लेकिन शायद उसकी मर्जी कुछ और है वह मुझे यहीं तुम लोगों के बीच ही रखना चाहता है।

ताकि तुम लोग मुझे देख सको, मुझसे सीख सको कि एक दिन तुम लोगों का भी यही हश्र होगा। एक दिन तुम भी असहाय होंगे, आज मेरी दशा देख के लोगों का मन घृणा से भर जाता है लेकिन एक दिन तुम भी ऐसे ही हो जाओगे।

ये पैसा, सुंदरता, दुनिया के आडम्बर क्षण भर के हैं, सही ही तो कहा उस भिखारी ने एक दिन तुम भी ऐसे ही हो जाओगे। कड़वा सच है – बचपन, जवानी, बुढ़ापा इनको आप रोक नहीं सकते।

आप चाहे बच्चे हैं या जवान या बूढ़े, अपने कर्म अच्छे रखिये उस ईश्वर में विश्वास रखिये। जीवन यूँ तो दुखों से भरा पड़ा है लेकिन वो ऊपर वाला पालनहार है वो सबकी नैया पार लगाने वाला है। आनंदित होकर जियें , भरपूर जियें

दोस्तों कहानी पढ़कर कहीं मत जाइये क्योंकि आपको इस कहानी के बारे में अपने विचार हमको बताने हैं। नीचे कमेंट बॉक्स में जाएँ और अपने विचार हमें लिखकर जरूर जरूर भेजिए हमें आपके संदेशों का इन्तजार रहेगा।

धन्यवाद!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

45 Comments

  1. Yes its fact of life, Its a life chain. But in the said story if the old man invest when he was young. Do something for his elder age He need not suffer like this.
    We all have to think when we are young instead of wasting money on luxury thing pls invest.
    Warren Buffett Quotes regarding investment
    1. I’m not interested in cars & my goal is not to make people envious. Don’t confuse the cost of living with the standard of living.
    2. Do not save what is left after spending; instead spend what is left after saving.
    3. If you buy things you don’t need, soon you will have to sell things you need.
    4. If you’re in the habit of overspending, it is critically important to break the habit now.

    We you agree with me & really want to do something for your old age, then pls feel free to call me

    Kapil Chand Jain — 9312386624 / Rachna Jain–9971153773
    Finance Agent & Advisor
    Max Life Ins./LIC/Star Health

  2. Bahut badhiya kahani apne post kiya hai ye prairanadayi kahani hai, aise hi kahaniya post karte rahiye
    sasadar Dhanyavaad

  3. ईश्वर एक आश है भरोसा है उम्मीद है | aap sirf karm krte jao kyuki jo hota hai achhe k liye hota hai. So don’t worry about your life. Ek din sbko jaana hai to iske liye dr kaisa kyuki sab moh maya hai.

  4. The story is very best ki insan ko kabhi nahi bhulna chaye jis sareer par itna ahankar karta yhe sarrer naswer hai kabhi kise ka boora mat karo

  5. hello sir, i am a director nd producer and i want to some short films for your stories. if you are interested then please
    text me or mail me .:-

    thanks ,
    regard,
    anish sharma
    mob :- 09619479621

  6. JEEWAN KA KARAM HAI HO TO HONA HI HAI HUM JANTE HAI BURA KARAM KA FAL BURA HOGA MAGAR MADKTA AADMI KO ANDHA BANA DETI HAI AUR WO KARAM KE FAL KO BHOOLKAR WAHI NITYA KARMA KARTA HAI AUR JIWAN CHALTA RAHTA HAI

  7. समय सबसे बलवान होता है यही इस कहानी का सीख है

  8. Sir, mai is story se kafi impress hua hun.
    Sir mujhe is story se ye seekh mili hai ki hme kisi ki majburi dekhkar hasna nahi chahiye..
    Balki ho sake to tan man dhan jisse bhi ho sake uski madat karni chahiye..
    Kyoki jo bura samay uspar chal rha Hai.vo hamare saath aapke saath kisi ke saath bhi ho sakta hai
    Kyoki samay bahut balwan hai, palbhar me kya ho jaaye koi nahi janta
    Agar mere is comment me koi galti ho to kshama karna

  9. This is the truth of life.
    But, forcefully we want to keep away ourselves from this truth
    Please, have love, respect for everyone, everything to get the same in return from Almighty GOD

  10. एक,,,,,,,औरत,,,,,,,साडी पहन कर ,,,,,,की पूजा करने चली.

    इन तीनो जगह पर एक ही. शब्द आयेगा. तो बताओ क्या आयेगा

  11. भिखारी ने सही कहा हम मिट्टी के एक दिन हमे मिट्टी मे मिल जाना है

  12. What do we want? To be like that beggar at the end time of life or like the ancient rishis of our culture who became more young, more powerful, more wise at the end time.

  13. Nice mujhe ye story Achha laga apna sabhi ka alag hi sonch hote hai har koi ki ek ahemiyat hoti hai jab kisi office me ek pun ke n ane se office ke karma chari pareshan ho gate hai to jara sochiye us pun k kita ahemiyat hai o apne filmi k kam aaye me bhi achhe se Gujarat kar lete hai mere khayal se kisi ko kam nahi samjha chahiye Kyo ki har koi me kuch kar dikhane ka hunar hota hai jo jaise hai thik hi hai

  14. Agar duniya yeh sach jaan le to kisi ke saath nainsafi na ho aur na koi gareeb ho aur na hi kisi ki bhukh se jaan jaye. Yahi duniya ki sachai hai hai mere bhai

Close