धर्मगुरु Dalai Lama के उत्तम विचार Quotes in Hindi

Dalai Lama Quotes in Hindi
Dalai Lama Quotes in Hindi

दलाई लामा तिब्बत के आध्यात्मिक धर्मगुरु हैं। दलाई लामा एक उपाधि का नाम है। आज हम 14 वें दलाई लामा के विचार पढ़ेंगे। दलाई लामा के विचार आध्यात्म और सकारात्मकता से सम्बंधित हैं। दुनियां भर में उनके लाखों अनुयायी हैं। आइये उनके thoughts पढ़ते हैं-

जब आप कुछ गँवा बैठते हैं तो उससे प्राप्त शिक्षा को न गवाएं

– Dalai Lama

अगर आप दूसरों की मदद कर सकते हैं, तो अवश्य करिये लेकिन यदि आप मदद नहीं कर सकते तो कम से कम उन्हें नुकसान मत पहुँचाइये।

– Dalai Lama

जहाँ तक संभव हो दयालु बने रहिये और यह हमेशा संभव है

– Dalai Lama

प्रसन्नता पहले से निर्मित कोई वस्तु नहीं है, ये आप ही के कर्मों से ही आती है

– Dalai Lama

मेरा धर्म बहुत सरल है, मेरा धर्म है दयालुता

– Dalai Lama

अपनी क्षमताओं को जान कर और उनमें विश्वास करके ही हम एक बेहतर संसार का निर्माण कर सकते हैं

– Dalai Lama

हम बाहरी दुनिया में कभी शांति नहीं पा सकते हैं, जब तक की हम स्वयं अन्दर से शांत ना हों

– Dalai Lama

हमारे जीवन का उद्देश्य प्रसन्न रहना है

– Dalai Lama

नींद सबसे उत्तम चिंतन है

– Dalai Lama

एक छोटे से विवाद से किसी रिश्ते को टूटने मत देना

– Dalai Lama

सभी धार्मिक परम्पराएं मूल रूप से एक ही संदेश देती हैं – प्रेम , दया, और क्षमा, सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि ये हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा होनी चाहियें

– Dalai Lama

यदि आपकी कोई विशेष निष्ठा या धर्म है, तो भी अच्छा है, आप उसके बिना भी जी सकते हैं।

– Dalai Lama

प्रेम और करुणा तो आवश्यकता हैं, विलासिता नहीं, उनके बिना मानवता जीवित ही नहीं रह सकती।

– Dalai Lama

पुराने मित्र छूटते हैं फिर नए मित्र बनते हैं। यह दिनों की ही तरह है, एक पुराना दिन बीतता है, एक नया दिन आ जाता है। महत्त्वपूर्ण बात यह है कि हम उसे सार्थक बनाएं : एक सार्थक मित्र या एक सार्थक दिन

– Dalai Lama

कभी-कभी लोग कुछ कह कर अपनी एक प्रभावशाली छाप बना लेते हैं, और कभी-कभी लोग चुप रहकर अपनी एक प्रभावशाली छाप बना देते हैं।

– Dalai Lama

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

3 Comments

  1. तन के मिलन से अच्छा है मन का मिलन! इसमेँ किसी प्रकार का रुकावट नही आती!

  2. दलाईलामा साहब के महान विचारो का स्वागत करता हुँ! ऐसे उत्कृष्ट विचारो को हमेँ अपने जीवन मेँ उतारने की अत्यन्त आवश्यकता है!

Close