सच्चे प्यार की लव स्टोरी A Short Love Story in Hindi

Cute n Short Love Story in Hindi / हिंदी लव स्टोरी

ऋषि को चौदह साल की उम्र में ही पहला प्यार हो गया था| ऋषि उस समय आठवीं क्लास में था, उम्र कम थी लेकिन मॉर्डन ज़माने में लोग इसी उम्र में प्यार कर बैठते हैं|

ऋषि का ये पहला प्यार उसकी क्लास में पढ़ने वाली लड़की “नीलम” के साथ था| नीलम अमीर घराने की लड़की थी, उम्र यही कोई 13 -14 साल ही होगी और दिखने में बला की खूबसूरत थी| नीलम के पापा का प्रापर्टी डीलिंग का काम था, अच्छे पैसे वाले लोग थे|

ऋषि मन ही मन नीलम को दिल दे बैठा था लेकिन हमेशा कहने से डरता था| ऋषि के पिता एक स्कूल में अध्यापक थे| उनका परिवार भी सामान्य ही था इसीलिए डर से ऋषि कभी प्यार का इजहार नहीं करता था|

चलो इस प्यार के बहाने ऋषि की एक गन्दी आदत सुधर गयी| ऋषि आये दिन स्कूल ना जाने के नए नए बहाने बनाता था लेकिन आज कल टाइम से तैयार होके चुपचाप स्कूल चला आता था| माँ बाप सोचते बच्चा सुधर गया है लेकिन बेटे का दिल तो कहीं और अटक चुका था|

समय ऐसे ही बीतता गया…लेकिन ऋषि की कभी प्यार का इजहार करने की हिम्मत नहीं हुई बस चोरी छिपे ही नीलम को देखा करता था| हाँ कभी -कभी उन दोनों में बात भी होती थी लेकिन पढाई के टॉपिक पर ही.. ऋषि दिल की बात ना कह पाया|

समय गुजरा,,आठवीं पास की, नौवीं पास की…अब दसवीं पास कर चुके थे लेकिन चाहत अभी भी दिल में ही दबी थी|

True Hindi Love Story

आज स्कूल का अंतिम दिन था| ऋषि मन ही मन उदास था कि शायद अब नीलम को शायद ही देख पायेगा क्यूंकि ऋषि के पिता की इच्छा थी कि दसवीं के बाद बेटे को बड़े शहर में पढ़ाने भेजें|

स्कूल के अंतिम दिन सारे दोस्त एक दूसरे से प्यार से गले मिल रहे थे, अपनी यादें शेयर कर रहे थे| नीलम भी अपनी फ्रेंड्स के साथ काफी खुश थी आज..सब एन्जॉय कर रहे थे,, अंतिम दिन जो था लेकिन ऋषि की आँखों में आंसू थे|

ऋषि चुपचाप क्लास में गया और नीलम के बैग से उसका स्कूल identity card निकाल लिया| उस कार्ड पर नीलम की प्यारी सी फोटो थी| ऋषि ने सोचा कि इस फोटो को देखकर ही मैं अपने प्यार को याद किया करूंगा|

बैंक से लोन लेकर पिताजी ने ऋषि को बाहर पढ़ने भेज दिया| नीलम के पिता ने भी किसी दूसरे शहर में बड़ा मकान बना लिया और वहां शिफ्ट हो गए| ऋषि अब हमेशा के लिए नीलम से जुदा हो चुका था|

समय अपनी रफ़्तार से बीतता गया,, ऋषि ने अपनी पढाई पूरी की और अब एक बड़ी कम्पनी में नौकरी भी करने लगा था, अच्छी तनख्वाह भी थी लेकिन जिंदगी में एक कमी हमेशा खलती थी – वो थी नीलम।। लाख कोशिशों के बाद भी ऋषि फिर कभी नीलम से मिल नहीं पाया था|

घर वालों ने ऋषि की शादी एक सुन्दर लड़की से कर दी और संयोग से उस लड़की का नाम भी नीलम ही था| ऋषि जब भी अपनी पत्नी को नीलम नाम से पुकारता उसके दिल की धड़कन तेज हो उठती थी| आखों के आगे बचपन की तस्वीरें उभर आया करतीं थी| पत्नी को उसने कभी इस बात का अहसास ना होने दिया था लेकिन आज भी नीलम से सच्चा प्यार करता था|

एक दिन ऋषि कुछ फाइल्स तलाश कर रहा था कि अचानक उसे नीलम का वो बचपन का Identity Card मिल गया| उसपर छपे नीलम के प्यारे से चेहरे को देखकर ऋषि भावुक हो उठा कि तभी पत्नी अंदर आ गयी और उसने भी वह फोटो देख ली|

पत्नी – यह कौन है ? जरा इसकी फोटो मुझे दिखाओ

ऋषि – अरे कुछ नहीं, ये ऐसे ही बचपन में दोस्त थी

पत्नी – अरे यह तो मेरी ही फोटो है, ये मेरा बचपन का फोटो है,, देखो ये लिखा “सरस्वती कान्वेंट स्कूल” यहीं तो पढ़ती थी मैं

ऋषि यह सुनकर ख़ुशी से पागल सा हो गया – क्या है तुम्हारी फोटो है ? मैं इस लड़की से बचपन से बहुत प्यार करता हूँ

नीलम ने अब ऋषि को अपनी पर्सनल डायरी दिखाई जहाँ नीलम की कई बचपन की फोटो लगीं थीं| ऋषि की पत्नी वास्तव में वही नीलम थी जिसे वह बचपन से प्यार करता था|

नीलम ने ऋषि के आंसू पौंछे और प्यार से उसे गले लगा लिया क्यूंकि वह आज से नहीं बल्कि बचपन से ही उसका चाहने वाला था|

ऋषि बार बार भगवान् का शुक्रिया अदा कर रहा था!!

दोस्तों वो कहते हैं ना कि प्यार अगर सच्चा हो तो रंग लाता ही है| ठीक वही हुआ ऋषि और नीलम के साथ भी..

ये भी पढ़ें:-
True Love Quotes in Hindi
वो नहीं मिली A Love Story
प्यार से जुड़े रोचक तथ्य
Friendship Quotes in Hindi

आपको ये प्रेम कहानी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताइये क्यूंकि आपके कमेंट्स ही हमें और बेहतर लिखने के लिए प्रेरित करते हैं|

234 Comments

  1. हेल्लो सर, मैं यह जानना चाहता हूँ की आप जो नीचे adnow के विज्ञापन दिखा रहे हैं क्या यह adnow के ही विज्ञापन हैं या फिर IncRevenue के विज्ञापन हैं… प्लीज उत्तर दीजियेगा…

    मेरी वेबसाइट को adnow ने ब्लाक कर दिया हैं… लेकिन मैं यह जानना चाहता हूँ की आपके वेबसाइट पर जो विज्ञापन दीखाई दे रहे हैं, वे असल में किस कम्पनी के हैं…

    जैसा की आपके विज्ञापनों के ऊपर Ads by IncRevenue लिखा हैं तो नीचे Sponsored by Adnow लिखा हुआ हैं..

    आप कौन से एडनेटवर्क का इस्तेमाल कर रहे हैं.. प्लीज मेरी हेल्प कीजियेगा…

    मैंने डेढ़ साल से एडनाउ के विज्ञापन अपनी वेबसाइट पर लगाए और अच्छी कमाई भी की… लेकिन न जाने जुलाई 2017 के अंत में पता नहीं कैसे मेरी वेबसाइट पर adnow के विज्ञापनो का ctr रेट 8 से 10% हो गया.. जिसकी वजह से सिर्फ 1 हफ्ते के अंदर ही adnow वालों ने मेरी वेबसाइट को ब्लोक कर दिया और मेरी पिछले डेढ़ महीने की कमाई भी हड़प कर ली..

    मैंने adnow वालों से जब इसका कारण पूछा तो उन्होंने बताया की फेक क्लिक हुए हैं.. मैंने उनसे कहाँ की मुझे नहीं पता की यह फेक क्लीक किसने किये हैं और क्यों किये हैं? आखिर इसकी सज़ा मुझे क्यों दी जा रही हैं? उन्होंने कोई उत्तर नहीं दिया.. सिर्फ एक फोटो भेज दी जिसपर फेक क्लीक की लिस्ट दी गयी थी.

    जब मैंने वह फेक क्लीक वाली लिस्ट को देखा तो यह देख कर और भी ज्यादा हैरान हो गया की एक ही जगह से एक ही समय पर 1 विज्ञापन पर 6 फेक क्लीक हुए… यानी की 1:15:23 PM पर सेम टाइम पर 1 विज्ञापन पर 6 क्लीक एक साथ कैसे हो सकते हैं? मैंने adnow वालो को कई बार टिकेट के जरिये संपर्क किया और उन्हें बहुत समझाया की मैं एक इमानदार ब्लॉगर हु, मैंने कोई गलत काम नहीं किया हैं… मैं नहीं जानता की यह फेक क्लीक किसने और क्यों किये हैं… लेकिन उन्होंने मेरी कोई बात नहीं मानी… और मेरी सभी कमाई कई राशी को भी शुन्य कर दिया…

    मैंने एड्नोव वालों को यह भी बताया की मैं आपके विज्ञापन का इस्तेमाल पिछले डेढ़ सालों से कर रहा हूँ… लेकिन उन्होंने मेरी बात नहीं मानी… उसके बाद मैंने यह भी पाया की जिस समय मेरी वेबसाइट पर adnow के विज्ञापन ब्लाक हो गये थे, उसी समय कई दूसरी वेबसाइट पर भी एड्नोव के विज्ञापन ब्लाक हो गये थे.. जैसे की अच्छीखबर, ज्ञानी पंडित, रोचक.कॉम, ज्ञानदर्पण.कॉम और भी कई वेबसाइट पर एडनाउ के विज्ञापन ब्लाक हो गये थे..

    उसके बाद से मेरी कमाई में बहुत ज्यादा कमी आ गयी हैं.. मेरी डेढ़ साल से ब्लॉग्गिंग सही चल रही थी … जबसे adnow ब्लोक हुआ हैं तबसे मैं काफी दुखी रहता हूँ..

    प्लीज मुझे रिप्लाई दीजियेगा… की आप एडनाउ का इस्तेमाल कर रहे हैं या फिर IncRevenue का इस्तेमाल कर रहे हैं… धन्यवाद….

    1. कबीर…ये विज्ञापन Adnow के ही हैं, दरअसल IncRevenue एक कंपनी है जो हमारे वेबसाइट के विज्ञापनों को हैंडल करती हैं और अच्छी Placement के हिसाब से Ads की पोजीशन वगेहरा change करती है|

      पिछले कुछ दिनों में Adnow की शिकायत मैंने भी काफी सुनी है| कई लोगों को ब्लॉक किया है इसने और brother मेरी भी एक वेबसाइट पर ब्लॉक किया जा चुका है, मैंने भी बहुत कोशिश की लेकिन उन्होंने पैसे नहीं दिए| तो अब इसपर ध्यान ना दीजिये आगे बढिये इसी में सार है|

    1. Ji ha dream to h pr kahaniyon me aisa hota h .aap or bui kahaniyan mere blogg prvpadh sakte hain.
      Sunehrepanne.blogspot.com

  2. bahut hi acchi kahani hain
    agar aapko love story padhni ho to aap humari site visit kar sakte hai..
    Maishayarhu.com

  3. condition esi hoti h jese aap khud ko khud se hi tod rhe ho.
    pyar agar ek tarfa ho to sabse khubsurat hota h lekin jab dono taraf se ho to bot sari zimmedariya bnti h

    m or vo 2014 me ek hue the.sath engineering me admission liya tha. mne to australia jane ka sapna chhod kar uske liye b.tech m admission liya taki pas reh sku. otherwise muje intrest hi nhi tha b.tech me or m clear b nhi kar paya.

    pyar hone k bad ham dono hi ek dusre ko sab kuch manne lge the. kahi ghumne jana to sath jana or movie jana college jana sab sath hota tha. har bat me ek dusre ko rkhte the lekin fir b bot dar rehta tha bcz hmare town k log ite open minded nhi the ki couple ko khushi se jine de isliye chhupke milna pdta tha
    ham jaipur rehne k liye aaye training time me to ek esa mahol mila jaha hme koi b nhi janta tha. bina dar k sath rehna pure din. hath me hath dalke sadko pe chalte.
    chhoti chhoti bato me khushi milti thi hme
    but time hmesha ek sa nhi rehta. vo apni family se bot pyar krti thi or yhi vajah bni ki use shadi ki bat se dar lgne lga. dhire dhire usne ye kehna shuru kiya ki shadi krni h to koi job dundo pehle. mere parents accept nhi krege ese. fir shadi k liye mna hone lga. mne ye sab expect nhi kiya tha.or ye sab hua b itna jaldi ki m tut gya uske muh se ye sab sunke
    mne bot minnat ki uski par jab ham bat krte is bare to ya to vo guse ho jati bot jyada or bat nhi krti ya rone lagti or mrne ki bat krne lagti jis karan muje ye bat chhodni pdti
    fir ham ghar vapas chle gye. b.tech puri ho chuki thi uski.lekin mere bot se subjects due the lekin m b chhod k ghar chla gya or kuch kam krne lag gya taki life me kuch kar sku.
    fir ab esa time aaya ki usne kaha ab mera rishta kahi or ho rha h or ab ham contact me nhi reh skte. lekin mne use kisi tarah mnaya ki muje kuch vakt chahiye khud ko smbhalne k liye.usne muje kaha ki ya to dost bnke reh lo hmesha k liye ya 1 mahina bf bnke reh lo or bhul jana . mne socha m 1 mahine me mna luga use to 1 mahina manga us se.usne kaha ki is 1 mahine me jitni bat krni h kar lo lekin uske bad mujse contact mt krna.
    jab 4 salo kese nikle yhi pta nhi lga to 1 mahine ka kya pta lagna tha..bot jaldi nikal gya
    mne bot koshish ki lekin usne apna fesla nhi bdla.
    isi bich m vapas jaipur aa gya railway ki preparation k liye(diploma base par).kyoki mera man pdne ko karne lga tha ab.
    or fir last rat ko ham facebook pe bat kr rhe the usne kaha ki kal se mujse koi contact mt krna. hamne bot late tk bat ki or ek dusre se bot kuch kaha. mne use kaha pdne pe dhyana lgana or successful ho jana life me. usne b yhi sab kaha. fir jab bye bolne ka time aaya to usne muje ek audio bheja. mai fir b tumko chahuga song. vo sunke m iti buri tarah se roya ki explain nhi kiya ja sakta. hmesha suna tha ki dil tut ta h to bot dard hota h. us vakt vo mehsus b kar liya tha mne.
    jab esi situation aati h to mrna bot asan lagta h lekin mne khud ko smbhala kyoki m meri ma ko dukhi nhi dekh skta.m nhi chahta ki vo puri umar roti rhe ye sochke ki mne 4 salo k pyar k liye use bhula diya or mar gya.
    lekin jise pure dil se chaha tha use ese bhul jana b asan nhi tha. kuch din bad mne use firse msg kiya kyoki muje us se kuch help chahiye thi peso k liye. or jesi muje umeed thi usne muje mna nhi kiya or meri help ki.
    mne try ki bat krne ki lekin usne kaha ki yhi vakt h hm dono ko pdne me dhyan lgana chahiye kyoki hmara religion alag h isliye hmari shadi kbi ho nhi skti. isliye hme apne or apni family k bare hi sochna chahiye ab.
    mne is bare bot socha or last me ye decision liya ki hme dost bnke reh lena chaiye. hmara pyar b dosti se hi shuru hua tha.
    mne use msg kiya.thodi der bat ki hal chal pucha or use kaha ki m chahta hu ki ham hmesha dost bnke rhe or ek dusre k sukh dukh me kam aaye. m tujse koi expectations nhi rkhuga or na kbi relationship ki bat kruga. bs muje teri dosti chahiye. kya tu meri dost bnegi.
    usne kuch der rply nhi kiya or fir kaha ki thik h lekin dosti hi expect krna or koi purani bat mt krna
    ab us bat ko 1 mahina hone vala h.ham kbi kbar bat krte h or dosto ki tarah hi krte h
    relationship me hmesha muje aap kehke bulati thi or ab tu kehke bulati h..muje b acha lagta h bcz dosti vali feeling aati h.
    m apna dhyan pdne me lga rha hu or vo b.
    dukhi hote h to abi b ek dusre ki hi yad aati h lekin bas fark ye h bs hak nhi rha ab kuch kehne ka ya mangne ka.
    kahi na kahi uske man me b pyar h or mere man me b lekin bas time esa h ki hme use apne man me dba k rkhna pd rha h.

    or is tarah vo meri half girlfriend ban chuki h

    is site pe pehle hmari kahaani aa chuki h. lekin vo usne likhi thi apne bare. ki kese use mujse pyar hua tha or uski life pehle kesi thi or ab kesi h mere sath.
    sabko ye kahaani bot psnd aayi thi or uske cmnt box se mere kuch bot ache dost b bne the.lekin m ab unke nam nhi likh skta vrna unhe pta lag jayega ki m kon hu or unhe hmare bare janke bot dukh hoga.

    mera aap sabko yhi suggestion h ki sbse pehle family ko rkho or uske bad pyar ko…sabka pyar badal skta h lekin tumhari maa ka pyar hmesha tumhare sath rhega.kbi kisi k liye mrna mat. apni life ko sudharo or kuch acha kro taki tumhari family tum me proud feel kre.

    m b bs isi koshish me hu…
    What’s app 970417751

  4. Exam Ke First Din mein exam de Raha Tha Mujhe Us Samay Ek Ladki Dikhi..
    Mujhe Use Dekhte Hi Kuch ajeeb Sa Mahsus Hone Laga..
    Bad Me Mujhe Pta Chala Ki O To s s college or chittorgarh Ki Hai..Mujhe Bahut Bura Laga Kyuki O Mere Se dur ki Thi..
    Khair koi Bat Nahi Mohbbt Mohbbt Hoti Hai..
    Ab Mai Use Roz exam Time Me Dekha Karta Tha, Hamesa Meri Nazre Usi Par Tiki Rahti Thi..
    Isi Tarah Karte Karte Kuch Din bit Gye ..
    Ab Mai Usse Bahut Pyar Karne Laga Tha, Magar O Mujhe Notice Tak Nahi Karti Thi…
    exam ka last din tha mein use purpose karna tha par usse Shayad Pta Chal Gya Ki Mai Use Like Karta hu… usne us din meri trf dekha tak nahi me thoda darr raha tha ki wah mujhe han kregi ya nahi , mein uske pas jane hi vala tha ki mere mom or driver dono miujhe ghar le jane ke liye aa gye the or me unke sath chlaa gaya is trh mera love aage nahi bad paya ……
    Par Aap To Jante Hi Ho Ki Koi Ladka Apni Pahli Mohabbt Ko Nahi Bhul Sakta…mein uske bare mein sab pta kiya or vah kaha rhti hein ….. jab last din me use purpose nahi kar paya us din …..
    Maa Kasam Bahut Roya….
    Dosto Aasha Karta Hu Ki Aapko Aisa problem na ho……

    One side lover

  5. Dil ko jo touch Kar k khus kr de asi he ye kahani
    Rotey chehrey me asu ki jagh halki ki muskan la de asi he ye kahani
    Aur Kya kahey pyar ki schchi dasta he ye kahani

    Par aur thodi jyada suney ka man karey to kya karey

  6. मुझे एसी पोस्ट बहुत ही पसंद होती है

    मैं भी चाहता हूं की मैं भी एक पोस्ट साझा करूं

    यदि एसा हो कि मेरी पोस्ट साझा हो सके तो मुझसे सम्पर्क करे
    DEVI RAM MEENA
    BASWA DAUSA
    MOB.NO. 9414308512

    1. “The Letter from his city”
      this is the story of two childhood friend jab waqt duriya badha deti hai, tab hadd se zyada nafrat aur pyar ke kabil bana deti hai.
      the letter was sent to wrong address.

      “zindagi me isse bada intezaar shayd hi ajj ke jamane me mile”

      Penned by Sunny Mahesh..✍🏻✒️❤️👩‍❤️‍👨💌✨

      adityahore.com/post/the-letter-from-his-city-shortstory

  7. Esa mere sath kab hoga
    Hey shivji wo ladki school.ke akhiri exam ke baad ab tak nhi muje nhi mili
    Kitne upvas kar liye
    Ab to mila de

    1. Very great stories, please keep it up…

      lifeaajtak.blogspot.com/

      lifeaajtak.blogspot.com/2020/04/blog-post_53.html

  8. Nice bhaya mera pyar bhi yasahi kucha he

    Actually sacha dil jiska ho use bar bar umid bharasa milta rehega. Thanks nice your stori

  9. Mai bhi kisi se Bahut pyar karta hu……..
    ………mujhe mera pyar chahiye……
    ……ab kese milega ye mujhe pata nii

  10. वाकई अच्छी कहानी लेकिन ऐसे लोग कम ही भाग्यशाली होते हैं जिन्हें सच्चा प्यार मिलता है।

  11. yar kya khani he dil ko chhukar nikal gai pahle me ye sochta tha ki ab ye kabhi nhi mil payenge kudrat ka karisma to dhekho akhir mivahi diya may.nem dilip thakor .rajy gujrat. too.bhabhr. vilej mitha આ વીજ રીતે લખતા રહો.યે કહાની બહોત બહોત અચ્છી લગી . મોજમા રહો.

  12. kya mast story thi yr dil chhu gai sach me kuchh logo ki naseeb ho jata hai aisa lekin bhai story fek thi ma baap ko rishi dekha nahi raha hoga ya or usane kabhi nahi care kiya hoga or ha dasvi ke baad koi chahe jitna badal jaye but o pahchan me aa hi jata hai bhai

  13. Rishi or nilm ki story dill ko chhu gi .
    But in logo ko to apna pyar mill gye .
    Mere pyar aj v adura hai .
    😊😊😊 I am sad now .
    Bohat dard hota hai.

  14. वाह इस कहानी को जीतना बार पढ़ता हूँ उतना ज्यादा मज़ा आता है , यह कहानी सच मे दिल को छू गया ।

    1. Agr kisi ko Dill se Chaho to puri kaynat jut jati h use milane men But esa kuchh v nhi hota mea a to nhi kehta but kuchh Girls & Boys ese h ki is peyar ko bdnam kr rkha h

  15. ‌‌‌आपकी कहानी काफी अच्छी लगी । ऐसी ही कहानी और शेयर करते रहें । पढ़कर काफी अच्छा लगा ।

  16. Meri prem khaani abhi tak puri nhi hui m bhi apki tara us se 8class m hi pyar hua tha aur mene usko bola bhi tha par wo nhi mani meri baat

  17. Kaash meri bhi ek girlfriend hoti aaj tak bahut ladkiyon se pyaar hua par kisi se dil ki baat nahi keh paya isliye koi girlfriend nahi bani par mujhe bhi koi chahiye esi jo mujhe pyaar kare or mai us se pyaar karu 😢

  18. अब कहाँ बचीं है लव स्टोरी.. आजकल तो ब्रेकअप होते हैं… वो भी हर हफ्ते

  19. we are looking er for a short story writer for our you tube channel Manraj Talkies. Kindly let us know if you are intereseted. Please go through our channel for reference.

  20. gjb ki story mujhe lagta thha ki sacha pyar ni hota letjin kahani ne meri aankhe khol di kya mai apka fb account ,email,ya kuchh bhi mujhe bta skte h plz

  21. Hello friends ..

    आज मै आपको अपने one side love की सच्ची कहानी सुनाने जा रहा हूँ,

    वैसे तो एकतरफ़ा प्यार की कहानियां भरी पडी हैं, जिन्में से एक कहानी मेरी भी है|

    मेरा नाम धर्मेंद्र है और जिस लडकी से मुझे इश्क़ हुआ था उसका नाम अंकिता था,
    हम दोनों हमउम्र थे | और हम अलग – अलग स्कूलों में 8 वीं क्लास में पढते थे |
    मेरी फैमली गांव से शहर में नई शिफ्ट हुई थी,
    शुरू मे मेरा उससे कोई खास लगाव ना था हम बस नार्मल दोस्त थे |
    हम शाम को साथ में खेला करते, –
    कभी कभी लड भी पडते थे, लडाई होने पर वो अपनी मां को शिकायत कर देती थी, फिर उसकी मां उसकी गलती होने पर भी मेरे घर शिकायत लेकर आती थी, इस पर घरवालों से मुझे ही डांट पडती, उसके बाद हम फिर एकसाथ खेलते और एक हो जाते |
    अंकिता बैडमिंटन अच्छा खेलती थी, उससे मैने भी खेलना सीखा |

    कुछ वक्त बीता हम 10 वीं क्लास में आ गए थे, मै पता नहीं क्यों मन ही मन उसे चाहने लगा था |
    उसकी मुस्कान और अदाएं मुझे भाने लगी थीं पर मुझमे अपने मन की बात उससे कहने का कान्फिडेनस नहीं था मुझे लगता था कि कहीं वो बुरा ना मान जाए |

    एक दिन दिवाली पर बडी हिम्मत करके उसे उसके घर के बाहर अकेले मे गिरिटिंग कार्ड दिया तो उसने मुस्कुराकर थैंक यू बोला उसे खुश देखकर मुझे बडी खुशी मिलती थी |

    एक दिन मैने अपने क्लासमेट को अपने और उसके बारे में बताया, वो थोडा निकला हुअा बंदा था, उसका नाम था अनुज |

    अनुज – क्या वो तुझे चाहती है?

    मैं – पता नहीं यार पर मैं बहोत चाहता हूँ उसे, पर वो सब समझती है एेसा मुझे लगता है |

    अनुज – पता करते हैं |
    मैं – कैसे

    अनुज – फिरेन्डशिप डे आने वाला है उस दिन तू उसे फिरेन्डशिप बैंड बांधना, फिर देखते हैं |

    मैं – नहीं यार कहीं वो बुरा ना मान जाए |
    अनुज – पागल.. बुरा नहीं मानेगी कोशिश तो कर

    मैं – ठीक है

    फिरेन्डशिप डे पर मेने वैसा ही किया मौका देखकर बैंड उसके हाथ मे देते हुए विश किया,
    बैंड बांधने की मेरी हिम्मत नही हुई,
    उसने मुस्कुराकर थैंक यू बोला और चली गई |

    मैने अनुज को सब बताया वो बोला अरे मेरे भोले यार वो तुझे नहीं चाहती, अगर चाहती तो तेरे सामने ही बैंड पहन लेती, उसके मन मे कोई और है शायद, यह सुन मुझे गुस्सा आया पर मेरे दिल ने यह बात स्वीकार नहीं की |

    उसके बाद मेने अंकिता पर गौर करना शूरू किया तो मुझे भी महसूस होने लगा कि उसे मुझमे कोई दिलचस्पी नहीं है,
    और पता चला की उसने कोई बोएफरेन्ड बना लिया है, अनुज ने ठीक कहा था, मेरे दिल को झटका लगा |
    फिर एक बार होली पर वो अपने घर के गेट पर खडी थी, मै रंग लगाने उसके पास गया,
    यह देख उसने मुझे रंग लगाने को मना कर दिया मैने कहा रंग नही पर एक टीका तो लगा दूं, उसने मना किया मै मान गया और वहां से हट गया |

    फिर मेने देखा गली के एक लडके ने उसके चेहरे पर रंग लगा दिया और अंकिता ने कुछ रिएक्ट नहीं किया, यह देखकर मै गुस्से से भर गया |
    मैने एक छोटी बाल्टी पानी भरा और अंकिता पर उडेल दिया वो पुरी भीग गई और मुझ पर चिल्लाने लगी और उल्टा बोलने लगी,
    पर पता नही यारो उस वक्त मेरे दिल मे कोई डर नहीं था|

    फिर मैने दोबारा बाल्टी भरी और उसकी अोर करते हुए बोला कि इसमें कोई बुरा मानने वाली बात नहीं है लो तुम डाल लो मुझ पर पानी,
    पर वो उल्टा बोलती रही, और मै टूटे दिल से चुपचाप अपने घर आ गया |
    पर उस दिन के बाद से मेने अंकिता से बोलना छोड दिया, उसने भी कभी साँरी नही बोला,

    पर कहीं ना कहीं आज भी उसके लिए मेरे दिल मे एक साफ्ट कार्नर है, और फिर कहीं और मेरा किसी से दिल नही लगा |
    “जीवन मे सच्चा प्यार एक ही बार होता है बार बार होने वाला प्यार – सच्चा प्यार नहीं होता” – सच कहा गया है
    धन्यवाद

    If you like my story then please share on your website.

    1. आजकल की लड़कियां एक मायाजाल है
      जिसे सब कोई नहीं समझ सकता है

  22. Sachcha pyar hamesha rang lata hai… Hamara pyar bhi rang laya I’m soooo happy….love you jaan. KhushiAyaz

  23. Bohot hi achhi or sachi love story h a esa peya Bohot kismt walo ko milt h Q aaj kl esa hogey h ki Kpde ki trh peyar chenj krte h log

  24. Hii…… I’m sahil khan 9783767676
    9828866786
    Nice Story
    Masha allah gorgeous👍😘
    Allan apko & apki family ko hamesha khush rakhe

    …..

  25. Meri bhi kuch aisi story hai main pahle chauthi class mein padhta tha aur mujhe a ladki se pyar hua uska naam Priyanka Ghosh hai lekin main abhi tak news ya baat nahi bata paya aur hua paanchvi class mein school chor chuki thi aap mein 11 class mein hoon ab mujhe samajh nahi aa raha hai ki main kya karoon lekin main abhi bhi usse pyar karta hoon agar aapko meri message ya mile to please please aap mere message ka reply karna ab mujhe Kuch Idea dena

  26. मैं आपके Site पर Guest Post करना चाहता हु जिसमे मेरा Back link रहे lovestoryinhindi95.blogspot.com

  27. Agar aap logo ko love story read karna aacha Lagta hai too pyarnow.com visit Kar yea aapko bahut aache aache story read Karne no milega! Pyarnow.com

  28. Dil Pata nahi kab kisse pyaar kar Bethe par ha Aaj Kal bhut kam log hai Jo pyaar ko Samaj pate hai warna bhut log to time pass bhi karte hai but sir Aapki story padh ke laga ki Aaj bhi hai koi insaan esa Jo love ko janta hai nice story

  29. Sad Love Story in Hindi ये कहानी है एक ऐसे लड़के की जिससे अनजाने में हुई या यूँ कह लीजिये की बिना गलती के सजा मिली और उसे अपने प्यार को भूलना पड़ा तो आइये मै और आप साथ मिलकर पढ़ते है और जानते है की क्या थी रोहन और आरोही की Love Story

  30. Sir ji me ak short school love story ka video song bnana chahta hu please koi asi stori bheje
    Apki ati krpa hogi

  31. kahni itni mast nhi thi no we maja khani wo acchi lgti hai jsme dard ho pyar ka aehsas ho jise padh ke filing uthe pyar ki aur aehss ho ki kisi se pyar hotab to maj aata hi padhne me jaie mine ek khni padhi thi jiska name th ashik aur mashuk lekin ab wo book mil hi nhhi rahi hi

  32. हे भगवान मेरी भी बिनती सुन ले हमारी भी सादी करा दे

  33. PROUD LOVE ESE PYAR PAR PROUD FEELING
    VERY NICE
    KAAS SABKO ESE CHAHANE VALE MILE TO JINDAGI JANNAT BAN JAYEGI

  34. hello sir.. mai amisha maurya hun .. sir… apko agar kisi writter ki talsh ho to…. mujhe articals likhne bhut pasand h isliye agar aapko writter ki need ho to please contact to me…

  35. I follow every article you post and wait for next. when I am in trouble I feel positiveness when reading your article. This one gives me extra energy for a stay motivated in my life
    I am really thankful to you for sharing such a motivational post.
    rupkothar golpo

  36. Your stories are really awesome. The structure of words and other thinks are too pretty. I also wrote a article about Love Stories in Hindi……Do please visit my site through this link once – erasedwords.com/2020/04/13-best-love-stories-in-hindi.html?m=1

  37. Pati Patni Or Bo….
    ****************************** TURE LOVE STORY ********************************
    Mera Nam ajay kumar hai or mai Jabalpur mp ka rahne bala hu meri umer 30 year hai meri family me meri wife anju, didi or meri mamy hai mai apni first love story apke website ke madhyam se publish karna chahhta hu baat un dino ki hai jab mai ek ayurvedic product based private company ayurveda me work karta tha varsh 2017 me mujhe company me 3 month hi huye the mai company me as promoter ki post me tha mera compny me team mangments and achhi team recruitment krne ka kaam tha maine july month me ankita nam ki ladki ko tally caller post me recurt kiya uske sath uski 2 friends priya or aprana bhi sath hi work krna chahti thi esliye maine teeno frinds ko ek sath ek hi post me recurt kar liya teeno frinds bahut sunder or smrt work krne bali talented thi ankita or priya ne next days se hi working start kardi par aprna ne oct month se joing kiya aprna dikhne me bahut hi sunder thi or sath hi bahut achha communication skill bhi tha. Dheere dhere working ke sath hm sabhi sataff sath me as family jaise rahne lage sath work krna or sath me lunch diner krna hmlog ek dusre ke tifin bhi share krliy krte the ek din mujhe mere office kam se felied pr bhedaghat jaana tha jo office se 30 km dur hai to mai office se working ke loiye jane laga tabhi aprna ne mujhse bola sir aap kanha jar he hai to maine kaha mai felid pr jaa raha hu work se apko bhi chalna hai kya to aprna ne pucha kanha to maine kaha bhedaghat atully bhedaghat ek turism place hai to aprna ko laga ki ghumne bhi jaynge or usne sath chalne ko han bol diya or fir hm dono sath bike par bhedaghat ke liye nikal gaye thabhi hmlog baat krte huye sath jaa rahe the to aprna ne apni bahut si baate share kiya jaise use ghumna bahut pasand hai long drive par or new place me or family se bhi bahut freedam rahta tha kanhi bhi ghumu aprna ki family me mom or ek chhota bhai tha baki uske papa or bada bhai alag bahar Raipur me rahte the usdin aprna mere sath bike par bat krte krte chipak kar baith gaye to mujhe thoda ajeev sa feel hua but maine kuch nahi kaha or hmlog apna kaam karke evening tk return aagye uske bad hm as friends ban gaye dono apni har baat share karne lage or kuch din bad hm best friends ban gye fir ek din hmri company ka seminar tha jisme sabhi ko tradisnal dress me jana tha to hm sabhi ache look me seminar me aaye us seminar me mai or meri wife anju bhi aaye thi seminar khatam hone ke bad hm sab sath me lunch karne lage janhha mai apne office staff ke sath roj ki tarh sath me lunch krne laga or apnra ankita priya teeno ne sath shring me khana khya or fir program khatm ke bad sab ghar chale gaye usdin aprna bahut hi sunder lag rahi thi to maine night me whats app chating me uski bahut tariff kiya or

    Usi din ankita ne meri wife ko bhi dekha to bahut majak udya kyunki meri wife bahut hi shidhi simple sadi pahne huye thi jo mujhe acha nahi laga but no problem or fir maine us din aprna ko chting me ek movie show dekhene kaa offer kiya to aprna ready hogyee fir kyat ha maine next week use city mall me movie show dikhane legya wanha 2.40 ka show tha hm dono 2 baje hi chale gaye to aprna ne bola chalo hourer Zone chalet hai maine kaha ye kya hai wanha kya hota hai to usne kaha apko nahi pata maine bola nahi or fir kya hm log ne 2 tiket purchase kri or Or hourer Zone ki tiket lekr ander entry kiya to darbaje par bahut andera tha mai pahli bar gaya tha to idea nahi tha thod ange gaye to banha machine ke bhoot the jise dekha aprna dar gayee or mujhse chipak gayee maine darbaje pr khade usko hug kiya or fir bahar aagye leking gard ne bapas ander bhej diya fir 30 min hm log hourer zone me pura ghume dar mujhe bhi lag raha tha par aprna ke sath kam laga kyunki maine mobile ki torch on krli or exit gate se bahar aaye realy bahut maja aaya
    Fir hm log movie dekhene Gye or ander entry lee wanha hm sath me baithe the or maine uska hath pakada hua tha ander andhere me movie ke start hone ke kuchh der bad hm kab ek dusre ke karib aagye pata hi nahi chala or maine uske lips pr kiss krliya aprna ne bhi mujhe nahi roka or fir kya 15-20min hm ek dusre ko kiss krte rahe movie khatam hone ke bad hm ghar aagye ye mera first time tha uske bad maine aprna ko sorry bhi bola par usne bola koi baat nahi or fir hm dono ek dusre ke kareeb aane lage hm log ab sath jana or sath aana krne lage jisse office balo ko bhi sak hone laga ki hm lover hai pr koi bolta nahi tha or hmre beach love hogya maine aprna ko praopse krdiya

    Fir ek din aprna ne 2 weak baad mujhe ek apni friends nitu ke ghar sath chalne ko kaha to mai ready hogya or hmlog dono uske ghar chale gaye wanha niitu akle rahti thi din me to hm log bandiya baat karne lage or hasi majak kiye or kuch der bad nitu ne pasta banaya or hmlog ne sath khya fir uski firnds ne hm log ko apne room me akle chhor diya mujhe kuchh samjh nahi aaya but aprna ke sath main first time wanha physical relationship manye aprna or mujhe bahut achha laga uske bad hm kuch der bad ghar aagye fir dheere dhere hm log garden me ghumne jane lage or bhi jagah bahr jane lage eske bad hm log har month company ke kam se sath bahar jaane lage kabhi Kolkata to kabhi gadrwara or hotel stay bhi sath karte or hme aise kart karte ek sal hogya hm log bahut kareeb aagye or ek dusre ko had se jaiyda chahne lage mai or aprna bahut romatic the esliye all time jab bhi moka milta bahut romance karte or aise mai bahut khus rahne lahga ek or meri wife bhi thi jisse me dheere dhere dur hote chala gay or bahut ladaii bhi hone lagi mai use time kam deta or aprna ko jaiyda time deta tha fir hmlog ne ek sal bad company chor diya fir hmlog ne mall me sath job join karliuya game zone me janha hmlog sath me roj 12 hour ki job karte or kuch din bad hmne ek room leliya rent par janha hm livein relationship me husband wife ki tarah rahne lage roj apne ghar sach kahe to first days jab hm room me ruke aisa laga man ohm dono apna ghar chhod kar aaye or ab zindgi bhar sath rahnege Pr socha kam kanha hota hai pura hmlog us room me continue 5 days rahe or us 5 din me hmne apni life ki sari khusiya mil gayee or puri zindgi jee liya fir hm baps apne ghar rahte or room me only din me Jate the aise karke hmne
    3 month rent ka room liya or wanha rahte rahe fir kuchh din bad room khali kakre hm dono hi office me join krliya janha hm sath me hi 6 month kam kiye or aise karte karte hm log dono hi bahut khus the par ek din aisa hua ki mujhe kuch samjh hi nahi aaya aprna ne achank se baat karna band krdiya or usko chidchidahat or hone lagi mai samjh nahi paaya par aprna mere se alag hone ka sochne lagi wanhi ek or mujhe use pyar tha or wo mujhe ignore krne lagi or last time hm maihr sharda mata mandir ghumne gaye the to wanha usne dua me mata rani se prathna kari ki ajay anju ek ho jaye bas or sayd mata ne uski dua sun li or aprna ne mujhse call sms pr baat total band krdiya bar bar mere sms krne pr bhi koi reply nahi deti thi fir maine socha ki uske friends ki help li jaaye par use aprna or gussa hogyee or mujhe police complain ki dhamki dene lagi fir maine socha ki aab mai call nahi krunga mai use sachha pyar krta hu or yahi soch kr maine diside kiya ki mai aprna ki pic or uski yado ke sahare hi ji lunga or usdin se aaj tak kabhi call nahi kiya and ab mai apni family ke sath hi rahne laga fir kuchh mahine bad meri ek baby hui or mai apni wife ke sath hi kush rahne laga wanhi dusri or apnra ko koi or boy friends mil gaya or usne anju se dosti krli jo meri wife thi mujhe bad me uska pyar samjh aaya ki usne meri khusi ke liye apni kushi kurban krdi dosto baas yahi kahani thi meri mujhe jarur batye kaisi lagi mai aaj bhi use bahut miss krta hu esliye maine apni beti ka naam bhi misty rakha jo uska nik name tha

  38. I have the same story..
    2018 me medical ki preparation ke liye ek coaching join ki thi..
    Waha ek ladka tha.
    Jo mujhe dekhta rhta tha cls me,
    Ye mujhe meri kuch frnds ne bataya ki..
    Wo jo ek ladka h na cute sa Jo physics me acha h..
    Wo tumhe hmesa dekhte rhta h…
    Fir time bita
    Aur sal complete ho gya
    Aur hmara course v..
    Exam hua uske bad meri result nhi ho payi…
    Cls complete hone ke bad pta nhi kyu mujhe v uske na hone ki kami khalne lagi..
    Next year fir se mai usi coaching me admission le li waha gyi to dekhi wo v wahi padh rha tha, use waha dekhkr Mai bhut jyada khush ho gyi thi.. Aur is sal mai use chip chipakr dekhne lgi ki..
    Kya ye sach meko dekhta h..
    Aur wo bhot hi pyar se meko dekha krta tha,
    Aur chip chipa kr dekha krti thi taki kisi ko pta na chale,
    Bcoz mai na school time se hi aisi ladki thi jo kvi v boys ki taraf ya kisi ladki taraf v dekhe..
    Bs mera Pura concentration cls me padha rhe teacher ki taraf hoti thi.. Teacher se mera eye contact rhta tha to students pe dhyan v nhi deti thi…
    Cls khatam hote hi mai jaldi nikal jati thi aur bahar auto ka wait krti thi taki wo nikle aur mai use ek bari dekhun..
    Aur wo v mujhe dekhta tha..
    Is bar Mai sochi thi ki Jb last class hogi tab agar wo mere se bat nhi kiya to mai khud usse bat karungi..
    Sur exam ke liye all the best kahungi..
    Pr fir hamari holi ki chhutti ho gyi nd fir
    Corona virus ki wajah se institute band…
    Mai pta nhi kyu use bhot miss krti hu..
    Aur janna chahti hu ki uski padhai kaisi chal rhi h..
    Aur kya ho ek bar v mujhe miss kiya h..
    I wish ki hmdono ko same medical college mile taki hum at least friendship kr sake…

  39. Maine almost aisi he kahaani hamare collegnki.magzine ke.liye likhi thi almost same hai aur wordings bhi same hai ..aise kaise ho sakta hai ?? Kyuki Maine toh kahise copy nahi Kiya tha not even from Google main bachpan see kahaaniya air kavitaayyei likhati aa rahi hu 2 stories par wordings same I find it weared

  40. Ye story bahut achhi hai❤️❤️❤️❤️..
    Mein bhi ek ladki se bahut pyaar krta hu.uske jaane ke baad aisa lagta tha meine bahut kuch khoya hai.ek baar dekha tha bahut udaas thi wo.uske pass jane ki himmat nhi hue..
    Agr apko aage ki ✍️story padhni hai to👇👇👇
    मैं तुम्हे हमेशा प्यार करूँगा-Sad love story in hindi

  41. एक पतली सी, सीधी सी, गोरी सी लड़की थी जो शायद दुनिया में सबसे अलग थी उसका नाम चांदनी था आज लगभग 2 साल पहले उससे मैंने पहली बार मोबाइल पर बात की थी तब वो मेरे दोस्त सूरज की दोस्त थी| उस वक़्त उसमे मुझे कोई दिलचस्पी नहीं थी लेकिन धीरे-धीरे वक़्त गुजरता गया और उससे बातों का सिलसिला आगे बढ़ता गया| धीरे-धीरे मुझे पता चला कि वो मेरे दोस्त से बहुत प्यार करती है और मेरा दोस्त भी उससे बहुत प्यार करता है |कभी कभी सूरज जब चांदनी की कॉल नहीं उठाता था या सूरज से चांदनी की बात नहीं हो पाती थी तो वो मेरे पास कॉल करती थी और सूरज से बात कराने की बोलती थी जिससे मैं उनकी बात करवा देता था क्योंकि मैं और सूरज किराये के मकान में एक साथ रहते थे| वो दोनों आपस में प्यार भरी बाते करते रहते थे और मैं एक कोने में लेटा हुआ उन दोनों की बाते सुनता रहता था सूरज को किसी काम की वजह से हमेशा के लिए घर आना पड़ा | हम लगभग 3 महीने साथ मे रहे थे तो मैं भी चांदनी से कभी कभार मोबाइल पर बात कर लेता था
    लेकिन सूरज के घर जाने के बाद मैं अकेला रह गया जिससे मेरा मन नहीं लग रहा था
    और फिर मैं दिल बहला लेने के लिए चांदनी से बाते करने लगा| तब मुझे पता चला सूरज और चांदनी मे किसी गलतफहमी की वज़ह से उनके रिश्ते मे दरार आना सुरू हो गयी | मैंने उनकी ग़लत फहमी को दूर करने की कोशिश भी की लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ और दोनों अलग हो गए | उसके बाद चांदनी से मेरी भी बाते होना बंद हो गयी |
    इसी बीच मुझे अह्सास हुआ कि मुझे उससे बात करने की आदत लग गयी थी | चाँदनी सूरज से बहुत प्यार करती थी इसी वजह से वो उसे भुला नहीं पा रहीं थीं और वो मुझे कॉल करके सूरज से बात कराने को बोलती थी लेकिन वो था कि चांदनी से बात करने को राजी नहीं था
    मैंने मौके का फायदा उठाने की सोची | एक दिन उसकी कॉल आयी और मैंने मोबाइल पर ही मेरे प्यार का इजहार कर दिया क्योंकि मुझे लगने लगा था मुझे भी उससे प्यार हो गया
    पर किस्मत को कुछ और ही मंजूर था उसने मुझे ठुकरा दिया, क्योंकि शायद उसे अभी भी सूरज से प्यार था या फिर उसे मेरे प्यार पर विश्वास नहीं था, लेकिन हम अब अच्छे दोस्त बन चुके थे और अब तो जब भी चांदनी की कॉल आती मैं उसे बताता कि मैं उससे बहुत प्यार करता हू पर वो है मानने को तैयार ही नहीं थी |
    धीरे-धीरे समय गुजरता गया और हमारी गाड़ी यू ही चलती रही

    इसके बाद हमारी बाते होना कम हो गयी और मुझे लगने लगा कि जिंदगी मे कोई तो लड़की होनी चाहिए इसलिए मैंने कुछ ल़डकियों को प्रपोज किया जिनमे से कुछ से मेरी बाते होने लगी, लेकिन मेरी किस्मत में शायद लड़की थी ही नहीं

    क्योंकि मुझे उन ल़डकियों से बात करने से वो सुकून नहीं मिला जो चांदनी से बात करने पर मिलता था अब मुझे चांदनी की याद आने लगी और मैंने उससे दोबारा बात करना सुरू किया | अबकी बार मुझे उससे बात करने मे ज्यादा मजा आने लगा या फिर यू कहु की मेरे दिल को सुकून मिलने लगा था इस बार मेरा प्लान अलग था मैंने उसे बोला कि मेरी किसी लड़की से बात करवाओ और उसने हामी भर ली लेकिन मुझे कुछ तो विश्वास था कि वो मेरी किसी भी लड़की से बात नहीं करवायेगी और मैं उससे बार बार बोलता रहा | लेकिन मेरे अन्दर कुछ और ही चल रहा था मैं दिन मे जितनी भी बार मोबाइल निकालता उसके whatsaap अकाउंट को जरूर देखता और उसे मैसेज करता | अब तो मैंने सोच लिया था कि चाहे कुछ भी हो जाए गर्ल फ्रेंड बना के ही रहूँगा और एक दिन मैंने उसे दिल से प्रपोज कर दिया मुझे विश्वास था कि वो मान जाएगी, लेकिन फिर मेरी किस्मत को कुछ और ही मंजूर था और उसने दोबारा मना कर दिया क्योंकि शायद उसे अभी भी या तो सूरज से प्यार था या फिर उसे अभी भी मेरे प्यार पर विश्वास नहीं था

    मैंने उसे मनाने की बहुत कोशिश की लेकिन वो मानने को तैयार ही नहीं हुई और अब मुझे लगने लगा था कि वो मुझे कभी नहीं मिलेगी ये सोच सोच कर मेरा दिल बैचेन होने लगा | एक दिन चांदनी ने उसकी छोटी बहिन सितारा से मेरी बात करवाई मुझे सितारा मे उसकी परछाई नजर आई, सितारा का स्वभाव बिल्कुल चांदनी की तरह था मैंने सोचा चांदनी तो मिलने से रही तो क्यू ना सितारा को ही अपनाया जाए |

    सितारा को मनाने के लिए मैं उससे भी बाते करने लगा | मुझे सितारा भी बहुत पसन्द आने लगी लेकिन चांदनी की कमी को वो पूरा नहीं कर सकती थी लेकिन सितारा में भी चांदनी की बहिन होने के पूरे गुण थे तो वो भी मेरे प्यार को कैसे अपनाती, हालांकि मैंने सितारा को प्रपोज नहीं किया था पर मुझे विश्वास है कि वो भी मुझे नहीं अपनाएगी क्यों कि वो भी तो चांदनी की ही बहिन है
    अब मैंने चांदनी से कल बात की थी तब मैंने उसे फिर से मेरे दिल की सारी बाते बता दी |
    लेकिन फिर दोबारा रिजल्ट वो ही रहा, इससे मेरे दिल को बहुत ठेस पहुंची और मैं रात को सो नहीं पाया, अब मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि मेरी किस्मत इतनी खराब हो सकती है मेरी आँखों से आसु नहीं रुके और मैं लेट रात तक रोता रहा,क्योंकि मैं सच में अभी उनसे बहुत प्यार करता हू और करता रहूंगा, फिर मैंने अब निश्चय किया कि मैं पहले सितारा सितारा को प्रपोज करूंगा क्यों कि मुझे जिससे सच मे प्यार है वो तो मुझे मिल नहीं रहीं और अगर सितारा भी मुझे नहीं मिली मैं उन दोनों बहनो से बात करना बंद कर दूंगा क्योंकि अगर मैं उनसे बाते करूंगा तो मुझे उनकी याद ज्यादा तड़पायेगी, तो बस अब मुझे या तो इनमे से कोई मिलती है ही अगर नहीं मिली तो दिल पर पत्थर रख कर मुझे इसने बाते करना बंद करना पड़ेगा जोकि मेरे लिए बहुत ही ज्यादा कष्टदायक होने वाला है

  42. Sir …. Your content is so beautiful 😍😍 me ek YouTube channel chalu karna chahta hu… Kya aap ki stories waha padh sakta hu . .. Aabhar honge agar ha bolde aap 😇😇

    1. Yes you can take 2 or 3 stories from hindisoch.com but If you take more stories it may cause youtube strick

  43. College love story in hindi – एक ही पल मे नफरत प्यार मे बदल गई नफरत से प्यार हो गया

  44. अच्छी कहानी है
    पढ़ कर मजा आया…
    अगर संभव हो तो मेरी Website MaSaGyani
    देखें और Pls give suggestion for improvement
    लव यू आल….

  45. क्या स्टोरी है इस सुंदर कहानी को पढ़कर मेरा दिल खुश हो गया thanks- पति और पत्नी की प्रेरक संबंध कहानी

  46. Best love story …..Mai bhi kise s bht pyr krte hu plzzz God Hume bhi jld hi ak kardo na 😭😭😭😭😭😭❤️

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button