Awesome Hindi Essay on Success सफल होना है तो छोड़िए बहाने बनाना

Awesome Hindi Essay on Success

quotes on excuse in hindi

सफलता पर हिंदी निबन्ध – सफल होना है तो छोड़िए बहाने बनाना

याद है जब हम छोटे थे तो बात बात में बहाने बनाते थे| स्कूल में मार से बचने के लिए बहाने, मम्मी की डांट से बचने के लिए बहाने| खुद को बचाने के लिए ना जाने हमने कितनी बार नए नए बहाने बनाए लेकिन बड़े होकर वही बहाने बनाने की आदत आज हमें आगे बढ़ने से रोक रही है| हमने हर बात में बहाना बनाना सीख लिया है, खुद को बचाना सीख लिया है|

स्कूल से घर आके पूरी शाम हम दोस्तों के साथ मस्ती करते थे फिर और अगले दिन स्कूल में आकर बोलते थे – हमने होम वर्क कर लिया था लेकिन कॉपी घर रह गई|

स्कूल में मार्क्स कम आए तो – टीचर स्कूल में सही से नहीं पढ़ाते थे, मेरी बुक खो गई थी ,फिर बहाना

फिर जब हम बड़े हो जाते हैं तो ये आदत अब भी हमारा पीछा नहीं छोड़ती| हम कभी भी अपनी गलती नहीं मानते हमेशा अपनी गलती के लिए दूसरों को दोषी बता देते हैं और खुद बहाना बना कर बच जाते हैं|

ऑफिस के लिए लेट हुए तो – ट्रैफिक का बहाना,,, “मेरी कोई गलती नहीं है, ट्रैफिक था इसलिए लेट हुआ ”
बिज़निस में फेल हुए तो – किस्मत का बहाना,,, “मेरी कोई गलती नहीं है, ये साली किस्मत ही खराब है”
कम्पटीशन में फेल हुए तो – मेरे हालात अच्छे नहीं थे,,,, “मेरी कोई गलती नहीं है यार मेरे उस समय हालात अच्छे नहीं थे”
अच्छी नौकरी नहीं मिली तो – यार माँ बाप ने ज्यादा पढ़ाया नहीं,,,,”मेरी कोई गलती नहीं है माँ बाप ने ज्यादा पढ़ाया होता तो आज अच्छी नौकरी होती”
कभी किसी से लड़ाई हुई तो – मैंने तो कुछ किया ही नहीं,,,, “मेरी तो कोई गलती थी ही नहीं मैंने कुछ नहीं किया वही लड़ रहा था”

बहाने बनाते बनाते हम ऐसे हो गए हैं कि हमें अपनी गलतियां दिखाई ही नहीं देती| हम सारा दोष दूसरों पर डाल के अपना पल्ला झाड़ देते हैं कि मेरी कोई गलती नहीं|

सच कहूं तो ये बहाना आपको सफल होने से रोक रहा है| जो भी गलती हुई उसमें खुद की गलती मानिए और अपनी कमियों को सुधारिये| कमियों पर पर्दा डालकर आप खुद की कमियां कभी दूर नहीं कर पाएंगे| अपनी कमियों को दूर करना है तो खुद की गलती मानिए तभी आप खुद में सुधार कर पाएंगे| जब आप खुद की गलती मानेंगे ही नहीं तो सुधार कभी होगा ही नहीं और आप कल भी असफल थे और कल भी असफल ही होंगे क्यूंकि आप तो बहाने बनाने में लगे हैं|

हालात, किस्मत या दूसरों को दोष मत दीजिये और अंत में मैं यही कहना चाहूँगा कि –

“नजर को बदलो तो नजारे बदल जाते हैं
सोच को बदलो तो सितारे बदल जाते हैं
कश्तियाँ बदलने की जरूरत नहीं
दिशा को बदलो किनारे खुद ब खुद बदल जाते हैं”

दोस्तों प्रेरणा से ओत प्रोत ये आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताइए| नीचे कमेंट बॉक्स लगा है वहां जाइए और कमेंट करके बताइए कि कैसे अब आप खुद को सुधारने की कोशिश करेंगे और ये लेख आपके लिए कितना सहायक सिद्ध हुआ|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

29 Comments

  1. बहत बरीया स्टोरी है । मेरे तो बहत काम का है। धन्यबाद आपको आप इतनी मेहनत छे तैयार किया । आपके दिल बरीया है। Thank you.

  2. very inspirative lessons you have posted everybody needs to pay heed on this fact he should implement on himself to improve oneself

  3. सच मै आपकी हर पोस्ट बहोत ही अछि है प्रेरणा दायक है हमें बहोत ही प्रोत्शाहित करती है। बहोत कुछ सिखने को मिलता है …..

  4. Really boss ye story bahot prernadayak h aur hum sb ko isse kuch sikhna chahiye aur hme apni gltiyon ko sudharne k liye ya life me kuch krne k liye ek vajah chahiye dosto hum apko bta de ki jb tk apke pas koi vajah nhi hogi tab tak apka kisi bhi kam me Mn nhi lgega.( story post krne k liye thank u)

  5. Zindagi ka bohot bada fact khol ke rakh diya hai is article mey boss, agar hum apne dosh dusre par dalne ke alawa khud par lagu kare to zindagi mey bohot kuch sikhne ko milega, ye article mere liye bohot hi prerna se bhara saabit hua hai, THANKS

  6. This type of motivational stories can change our life. We should follow strictly rules and regulations then everybody will definitely change and enjoy our life.

Close