Swami Vivekananda

  • Swami Vivekananda Story in Hindi on Mother Sacrifice

    माँ की रोटी | स्वामी विवेकानंद के जीवन की एक कहानी

    माँ का त्याग (एक रोटी) : स्वामी विवेकानंद के जीवन की एक कहानी बात उस समय की है, जब स्वामी विवेकानंद की प्रसिद्धि, उनके ज्ञान और अच्छे आचरण की वजह से पूरे विश्व में फ़ैल चुकी थी। वह जहाँ भी जाते, लोग उनके अनुयायी बन जाते और उनकी बातों से मंत्रमुग्ध हो जाते थे। एक बार स्वामी विवेकानंद एक नगर में पहुँचे। जब वहाँ के लोगों को पता चला तो वो सारे लोग स्वामी जी मिलने के लिए पहुँचे। नगर के अमीर लोग, एक से बढ़ कर एक उपहार स्वामी जी के लिए लाये। कोई सोने की अँगूठी लाया तो…

    Read More »
  • Swami Vivekananda Ki Kahani

    स्वामी विवेकानन्द हिंदी कहानियाँ – दिमाग की शक्ति

    एक बार स्वामी विवेकानन्द के पास एक आदमी आया और पूछा – कि प्रभु! भगवान ने हर इंसान को एक ही जैसा बनाया है फिर भी कुछ लोग अच्छे होते हैं , कुछ बुरे , कुछ सफल होते हैं , कुछ असफल ऐसा क्यों ? स्वामी जी निम्रतापूर्वक कहा कि मैं तुम्हें एक कहानी सुनाता हूँ, ध्यान से सुनो – कहा जाता है कि ये धरती रत्नगर्भा है यहाँ जन्म लेने के लिए देवी देवता भी तरसते हैं । एक बार है कि देवी देवताओं की सभा चल रही थी कि इंसान इतना विकसित कैसे है ? कैसे वह इतने…

    Read More »
  • स्वामी विवेकानंद और विदेशी महिला की कहानी

    स्वामी विवेकानंद के प्रसंग पहली कहानी #1 महान कर्मयोगी स्वामी विवेकानंद के जीवन का एक प्रसंग है| स्वामी विवेकानंद की ख्याति दुनिया भर में फ़ैल चुकी थी। लाखों लोग स्वामी जी एक अनुयायी हो चले थे। एक बार एक विदेशी स्त्री स्वामी जी प्रभावित होकर उनसे मिलने आई। स्वामी जी के चेहरे पर सूर्य के समान तेज था। विदेशी महिला स्वामी जी से बोली – स्वामी जी मैं आपसे विवाह करना चाहती हूँ स्वामी जी बोले – क्यों ? हे देवी मैं तो बृह्मचारी पुरुष हूँ विदेशी महिला बोली – मुझे आपके ही जैसा तेजस्वी पुत्र चाहिए ताकि वो बड़ा…

    Read More »
  • भगवान में विश्वास Swami Vivekananda Hindi Story

    Story of Swami Vivekananda in Hindi स्वामी विवेकानंद का सम्पूर्ण जीवन एक दीपक के समान है जो हमेशा अपने प्रकाश से इस संसार को जगमगाता रहेगा और उनका जीवन सदा हम लोगों के लिए एक प्रेरणा का स्रोत बना रहेगा। एक बार स्वामी विवेकानंद ट्रेन से यात्रा कर रहे थे और हमेशा की तरह भगवा कपडे और पगड़ी पहनी हुई थी। ट्रेन में यात्रा कर रहे एक अन्य यात्री को उनका ये रूप बहुत अजीब लगा और वो स्वामी जी को कुछ अपशब्द कहने लगा बोला – तुम सन्यासी बनकर घूमते रहते हो कुछ कमाते धमाते क्यों नहीं हो, तुम…

    Read More »
  • स्वामी विवेकानंद की जीवनी Swami Vivekananda Biography in Hindi

    स्वामी विवेकानंद की जीवनी स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ था। स्वामी जी का प्रेरणादायी जीवन आज भी youth world को आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है । उनका पूरा जीवन एक सफल मार्गदर्शक है , ऐसे महापुरषों के जीवन की एक भी बात अगर हम लोगों ने अपने जीवन में ढाल ली तो सफलता स्वयं आपके कदम चूमेगी। मैं यहाँ स्वामी के जीवन से जुड़ी कुछ घटनाओं के बारे में लिख रहा हूँ और आशा है की आप लोगों को जरूर पसंद आएगी। सुख और दुःख एक सिक्के के पहलू हैं , बात उन…

    Read More »
Close