दूसरों की मदद कीजिये : Help Others Story in Hindi

Help Others Story in Hindi

अजीत आज बहुत खुश था। बहुत दिनों बाद दिवाली की वजह से ऑफिस से 3 दिन की छुट्टी मिली थी। अजीत ने परिवार सहित कहीं बाहर खाने का प्लान बनाया। धर्मपत्नी ने भी घर का सारा काम काज आज जल्दी ख़त्म कर लिया और बेटे को भी तैयार कर दिया। घर में एक कार थी, यूँ तो पुरानी थी पर अजीत अपनी तनख्वा में नई ले भी नहीं सकता था।

तीनों लोग कार में बैठ कर फूले ना समा रहे थे, आखिर बड़े दिनों के बाद कहीं साथ साथ घूमने जो जा रहे थे। अजीत ने एक Hotel के पास गाड़ी रोकी। सारे लोग Hotel के अंदर जाकर बैठ गए। Waiter खाने का आर्डर लेने आया, अजीत ने ऐसे ही खिड़की से बाहर झाँक कर देखा, तुरंत वो उछलकर बाहर की ओर भागा और पीछे पीछे श्रीमती भी भागती नजर आई।

वहाँ बैठी एक वृद्ध महिला ये सब देख रही थी, वो भी भागकर बाहर गयी कि आखिर हुआ क्या?

बाहर जाकर देखा तो अजीत की कार को गलत जगह खड़ी करने की वजह से पुलिस ने ट्रक में डाल लिया और लेकर जाने लगे। अब बेचारा अजीत बार बार अपने किसी जानकर को फोन लगा रहा था, लेकिन शायद बात नहीं हो पा रही थी। सारी ख़ुशी का माहौल टेंशन में बदल गया जो अजीत और उसकी पत्नी के चेहरे पे साफ़ देखी जा सकती थी।

बूढ़ी औरत ने कुछ सोचकर पुलिस वालों से पूछा कि इस कार को वापस देने का कितना पैसा लोगे? पुलिस वाला रौब दिखाकर बोला- यहाँ गाड़ी लगाना सख्त माना है फिर भी पता नहीं जाहिल लोग यहाँ क्यों लगाते हैं? पूरे 8000 rs. लगेंगे। बूढ़ी औरत वापस होटल में गयी और अपना पर्स लेकर आई और 8000 rs. निकाल कर पुलिस वाले को दे दिए।

अजीत तो जैसे निरुत्तर और अवाक् हो गया, उसकी समझ में नहीं आ रहा था कि उस औरत का कैसे धन्यवाद दे। अजीत उस औरत से बोला- आँटी मैं आपको पैसे नहीं दे सकता, मेरी समझ में नहीं आ रहा कि आपका अहसान कैसे उतार पाउँगा? बूढ़ी महिला ने कहा- मैंने कोई अहसान नहीं किया है, और तुम्हें कुछ करने की जरुरत नहीं है बस एक वादा करो कि कभी किसी परेशान देखो तो उसकी मदद करने पीछे मत हटना।

ये सुनकर जैसे अजीत का मन ही बदल गया सोचा मैं दिन भर लोगों की कमियाँ ही गिनता रहता हूँ, मैंने कभी किसी की मदद करने सोचा ही नहीं।

मित्रों, मेरा निवेदन है कि इस कहानी को सिर्फ कहानी की तरह मत पढ़ना, इसको feel करना।

♦ कितना अच्छा लगता है जब हमारी वजह से किसी के चेहरे पे मुस्कान आती है।
♦ कितना अच्छा लगता है जब कोई हमारे अच्छे काम लिए धन्यवाद देता है।
♦ कितना अच्छा लगता है जब कोई कहता है कि भगवान तुम्हारा भला करे।
♦ कितना अच्छा लगता है जब कोई हमारी मदद को आगे आता है।

मित्रों लोगों की मदद करिये, यकीन मानिये इससे आपको भी ख़ुशी मिलेगी।

इन कहानियों को भी पढ़ें –
मदद और दया सबसे बड़ा धर्म
रजत शर्मा की जीवनी और सफलता की कहानी
Dhirubhai Ambani Life Story Quotes in Hindi
जबतक जीवन है सुख दुःख चलता रहेगा

आपको हमारी कहानियां पसंद हैं तो आप हमारा ईमेल सब्क्रिप्शन भी ले सकते हैं जिससे हर नयी कहानी पब्लिश होते ही आपके ईमेल पर पहुँच जायेगी| हिंदीसोच का ईमेल सब्क्रिप्शन लेने के लिए – यहां क्लिक करें..… और आपको हमारी यह कहानी कैसी लगी? नीचे कमेंट में जाकर हमें जरुर बताएं और अपने घर में सभी लोगों को ये कहानी जरुर पढ़ायें.. यकीन मानिये यही छोटे-छोटे प्रयास ही आगे चलकर बड़ा अंजाम देते हैं| धन्यवाद!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

21 Comments

  1. Apke vichar bahut ache lage,,,apke sath sampark rakhne ka kya sadhan hai….
    aap kya hindi ki rachnao ko publish karne me lekhko ki help karte hai…aaj kal hindi mein likne walo ke halath ache nahi hai aur yahi karan hai ki rachnao ka level bahut gir gaya hai….hindi lekhanko ko uchit pralobhan nahi milta hai…agar aap support karenge to apko viswas dilata hun ke ek unch koti ke lekh aur kahani likhne ki shamta rakhta hun…

    apke jawab ka intjari rahegi

    dhnyawad
    pradeep bahuguna
    pune
    9225609111

  2. आपकी कहानियॉ वास्तव में काफी प्रेरणादायक हैं। मै इन्हे कभी कभी अपनी निशुल्क भेजी जानेवाली पत्रिका में छाप सकता हूं, सभार केप्शन देकर।

    1. अगर आप किसी पत्रिका में प्रकाशित करना चाहते हैं तो आपका स्वागत हैं, हिंदीसोच के नाम के साथ प्रकाशित करें, लेकिन कृपया किसी दूसरी वेबसाइट पे ये आर्टिकल copy या publish ना करें,,,

  3. its realy very nice story.n mjhe v bahut acha lagta he kisiko help krna wthout expectation.bt kv kv asa hota he ki mjhe late me samjh me aati he ki agar me us time use help krti to acha hota na n khud pe guilty feel hoti he

  4. pawan ji, aap bahut bhale insaan hai, eseliye etani achchi achchi story likh pate hai. aap bahut achcha likhate hai.

  5. Sab se alag or badiya content hai apki website par sir
    Sare ke sare helpful content hai
    Visit allnationalknowledge

  6. आप बहुत बढिया कहानियाँ लिखते है।हर कहानी से सीख मिलती है।

  7. सर इस पोस्ट से बहुत कुछ सिखने को मिला है इसके लिए आपका धन्यवाद
    top10hindijankari.com

Close