Information about Snake in Hindi साँपों से जुडी कुछ अजीबोगरीब बातें

Facts about Snake in Hindi

सापों को देखना या उनके बारे में कोई बातें सुनना हमेशा ही बड़ा रोमांचक होता है। हमारे हिन्दू धर्म में तो वैसे सापों को देवता भी बोला जाता है लेकिन सांप से लोग डरते भी हैं क्योंकि साँप की कई प्रजाति ऐसी हैं जिनके काटने से मृत्यु निश्चित है।

आज हम आपको साँपों से जुडी कुछ अजीबोगरीब बातें बताने जा रहे हैं जिनको सुनकर आप हैरान रह जायेंगे। हो सकता है कुछ बातें आप पहले से जानते भी हों लेकिन हमने कुछ चुनिंदा बातें इकठ्ठा की हैं जो वास्तव में बड़ी रोमांचकारी हैं –

1. हर साल दस हजार लोग साँप के काटने से मरते हैं

2. साँप जीभ से सूंघता है

3. अजगर अपने शिकार को भींचकर मार देता है

4. सांप अपनी केंचुरी को साल में कई बार बदलता है

5. दुनियाभर में 3000 तरह के सांप पाए जाते हैं

6. साँप की पलकें नहीं होतीं

7. साँप खाना काटता नहीं बल्कि निगलता है

8. साँप के आंतरिक कान होते हैं बाहरी नहीं

9. कुछ सांप दो सिर वाले होते हैं और खाने के लिए एक दूसरे से लड़ते भी हैं

10. ब्लैक माम्बा (Black Mamba) साँप के काटने से 100 % मौत होनी ही है

11. सांप का जबड़ा लचीला होता है इसलिए वो अपने मुंह से बड़े शिकार को भी निगल सकता है

12. साँप अपनी आँखे बंद नहीं कर सकते क्योंकि उनकी पलकें नहीं होती

13. सांप खुली आखों से ही सोते हैं

14. लेबनॉन के मिलिट्री कमांडो जिन्दा सांप को खा जाते हैं

15. अंटार्कटिका को छोड़कर दुनिया के हर हिस्से में साँप पाए जाते हैं

16. सांप हवा और जमीन के कंपन से अपने आस पास का माहौल पता करते हैं

17. कुछ साँप बिना खाये भी 2 साल तक जिन्दा रह सकते हैं

18. सभी सांप मांसाहारी होते हैं

19. भारत में साँप को देवता मानकर दूध चढ़ाते हैं

20. सांप रोज खाना नहीं खाते बल्कि हफ्ते, महीने या साल में ही एक बार भोजन करते हैं

दोस्तों हिंदीसोच की हमेशा यही पहल रही है कि आप लोगों के लिए प्रेरक कहानियाँ और ज्ञान की बातें शेयर करते रहें। अगर आप चाहते हैं कि ये ज्ञान की बातें प्रतिदिन आपके ईमेल पर भेज दी जाएँ तो आप हमारा ईमेल सब्क्रिप्शन ले सकते हैं इसके बाद आपको सभी नयी कहानियां ईमेल कर दी जाएँगी- Subscribe करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

2 Comments

Close