Facts of Indian Agriculture in Hindi That Will Make You Proud

Indian Farmer Agriculture Facts in Hindi

जब हम लोग टेबल पर खाना खाने बैठते हैं तो बहुत कम ही लोगों के मन में ये विचार आता होगा कि ये जो अन्न हम खा रहे हैं, ये किसी किसान ने धूप और बारिश में कड़ी मेहनत से उगाया होगा। ये वही किसान हैं जो सारे विश्व के सामने भारत को एक उन्नत स्थान पर रखते हैं।

खेती भारत का व्यवसाय ही नहीं है बल्कि ये इस देश की जान है, हमारी अर्थव्यवस्था इसी पे टिकी है। आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताएँगे जिनको जानकर आपको भी भारत और भारत के किसानों पर गर्व महसूस होगा –

kisaan of india

1. भारत की आधी से ज्यादा जनसँख्या खेती पर ही निर्भर है यहाँ करीब सभी तरह से अनाज उगाये जाते हैं
2. कृषि के मामले में भारत का विश्व में दूसरा स्थान है
3. भारत में सबसे ज्यादा चावल उत्पादन किया जाता है। चावल उत्पादन में भारत का विश्व में दूसरा स्थान है

4. पश्चिमी बंगाल में सबसे अधिक चावल का उत्पादन होता है इसके बाद उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, पंजाब और बिहार का नंबर आता है

5. गेहूँ उत्पादन के मामले में भारत चौथे नंबर पर है। उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा गेहूं उत्पादन किया जाता है

6. चाय उत्पादन में भारत दूसरा सबसे बड़ा देश है। आसाम सबसे अधिक चाय उत्पादन करने वाला राज्य है और कर्नाटक सबसे अधिक कॉफी उत्पादन वाला राज्य

7. गन्ना भारत की सबसे मुख्य फसलों में से एक है। उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक गन्ना उत्पादन किया जाता है

8. कपास उत्पादन में भारत विश्व में सबसे अग्रणी है। महाराष्ट्र में सबसे अधिक कपास का उत्पादन होता है

9. 2013 – 14 की रिपोर्ट के अनुसार भारत में हर साल करीब 95.9 मिलियन टन गेहूँ उत्पादन होता है

10. भारत का जितना पैसा खेती से आता है उतना IT सेक्टर से भी नहीं आता

11. दुर्भाग्य की बात है कि भारत में 61% खेती बारिश पर निर्भर है। अगर बारिश में देरी हुई तो कर्ज में दबे किसानों को आत्महत्या तक करनी पड़ जाती है

12. विश्व के करीब 14% मवेशी भारत में रहते हैं

13. भारत में किसान आत्महत्या (farmer suicide) बहुत गंभीर मुद्दा है। जिनमें से आधे सुसाइड अकेले महाराष्ट्र में होते हैं

14. भारत फल उत्पादन में विश्व में पहले स्थान पे है और सब्जी उत्पादन में दूसरे नंबर पर

15. दूध उत्पादन में भारत सबसे अग्रणी है…

16. भारत की 58% जनसँख्या खेती करती है

दोस्तों हिंदीसोच की हमेशा यही पहल रही है कि आप लोगों के लिए प्रेरक कहानियाँ और ज्ञान की बातें शेयर करते रहें। अगर आप चाहते हैं कि ये ज्ञान की बातें प्रतिदिन आपके ईमेल पर भेज दी जाएँ तो आप हमारा ईमेल सब्क्रिप्शन ले सकते हैं इसके बाद आपको सभी नयी कहानियां ईमेल कर दी जाएँगी- Subscribe करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Close