बेसिक इंग्लिश ग्रामर कैसे सीखे | English Grammar Kaise Sikhe in Hindi

Basic English Grammar Kaise Sikhe in Hindi

आज इस लेख में हम आपको बताएंगे कि घर बैठे इंग्लिश ग्रामर कैसे सीखे और ग्रामर सीखना क्यों जरुरी है? जिन छात्रों को इंग्लिश ग्रामर को आसान भाषा में समझना है वह हमारे इस लेख को जरुर पढ़िए| साथ ही जिन लोगों को इंग्लिश ग्रामर कठिन लगती है और ग्रामर तो एकदम समझ में ही नहीं आती, उनके लिए यह लेख विशेष है|

इंग्लिश ग्रामर क्या है?

इंग्लिश भाषा को शुद्ध रूप में लिखने, पढ़ने, और बोलने सम्बन्धी नियमों को ग्रामर कहा जाता है| ग्रामर की मदद से हम भाषा को लिखने, पढ़ने, व बोलने की सही संरचना जान पाते हैं| इंग्लिश को शुद्ध और अर्थपूर्ण बनाने के लिए ग्रामर का use करना आवश्यक है|

भाषा को शुद्ध और नियमबद्ध बनाने के लिए ग्रामर का use किया जाता है| ग्रामर यानि व्याकरण के बिना कोई भी भाषा महत्वहीन होकर रह जाती है| किसी भी भाषा को स्पष्ट और समझने योग्य बनाने के लिए ग्रामर (व्याकरण) का प्रयोग करना अनिवार्य होता है| बिना व्यावरण के वाक्य अर्थविहीन हो जाते हैं|

इंग्लिश ग्रामर सीखना क्यों जरुरी है?

अक्सर आपने लोगों को यह कहते सुना होगा कि ग्रामर पर ज्यादा ध्यान ना दें, सिर्फ बोलने की कोशिश करें| जब कोई विद्यार्थी इंग्लिश सीख रहा होता है उस समय अगर वह ग्रामर के नियमों कर सही से पालन नहीं करता तो भी ज्यादा दिक्कत नहीं होती है| परन्तु जब आप थोड़ा बड़े लेवल पर होते हैं, जैसे किसी कंपनी में नौकरी के इंटरव्यू देने जाना हो, या एग्जाम में लिखना हो, तब ग्रामर को जानना आपके लिए बेहद जरूरी हो जाता है|

उदाहरण –

अगर मैं आपसे कहूं –

# राम खाना खाती है|

# सीता घर जाता है|

ऊपर लिखे दोनों वाक्य आपकी समझ में तो आ गए होंगे लेकिन क्या ये वाक्य सही हैं ? नहीं ना

ठीक वैसे ही जब आप बिना ग्रामर के इंग्लिश लिखने या बोलते हैं तो कुछ इसी तरह की गलतियां करते रहते हैं, और इनको सुधारने के लिए ग्रामर का ज्ञान होना जरुरी है|

इंग्लिश ग्रामर कैसे सीखें

शुरुआत में ग्रामर लोगों का काफी कठिन लगती है, इसलिए काफी लोग को इंग्लिश ग्रामर को एकदम इग्नोर करने लगते हैं और ग्रामर सीखने से डरते हैं| मैं मानता कि ग्रामर स्टार्टिंग में थोड़ी कठिन लगती है लेकिन अगर सही guidence के साथ ग्रामर सीखा जाये तो ये बेहद आसान है| यहां हम आपको 10 आसान टिप्स से बतायेंगे कि इंग्लिश ग्रामर कैसे सीखें?

# नये शब्द सीखें

इंग्लिश सीखने का पहला नियम है कि अपना शब्दकोष मजबूत करें| रोजाना 10 नए शब्द सीखें और उन शब्दों को लिखने और बोलने में बार -बार इस्तेमाल करें| इससे आप शब्दों का इस्तेमाल करना भी सीख जायेंगे| जो पुराने शब्द याद हैं उनको भी इस्तेमाल करते रहें ताकि आप भूलें नहीं| मोबाइल में कोई डिक्शनरी डाउनलोड कर लें या फिर बुकशॉप से डिक्शनरी खरीद लें और जब भी समय हो नए शब्दों को खोजना शुरु कर दें|

# लोगों को सुनें

मूवीज या कॉलेज में जब कोई इंग्लिश बोल रहा हो तो ध्यान से सुनें, क्यूंकि इंसान पढ़ने से ज्यादा सुनने और देखने से सीखता है| जब आप लोगों को बोलते हुए सुनेंगे तो काफी ग्रामर के नियम तो आपको बिना पढ़े ही आ जायेंगे| दूसरों के sentence सुनें और उन्हें बोलने की कोशिश करें| न्यूज, सीरियल, मूवीज जहाँ से भी इंग्लिश सुनने को मिले, उसे गौर से सुनें| शब्दों को समझने की कोशिश करें, और अपनी डेली लाइफ में भी वैसे ही बोलने का प्रयास करें|

# हिंदी मिक्स इंग्लिश बोलें

इंग्लिश शुद्ध नहीं बोल पाते तो हिंदी के साथ ही इंग्लिश के शब्द मिलाकर बोलें| अपनी भाषा में ज्यादा से ज्यादा इंग्लिश के शब्दों को शामिल करें| जब आप किसी से चैट करें तो भी हिंदी के साथ इंग्लिश को मिक्स करते रहें| बार -बार शब्दों को बोलने और लिखने से ये आपकी आदत में आ जायेंगे| रोजाना ज्यादा से ज्यादा शब्द अपनी भाषा में जोड़ें, फिर एक दिन आप पूरी pure इंग्लिश फर्राटे से बोल रहे होंगे|

# आम बोलचाल वाले sentence पर फोकस करें

किताबों में दिए गए typical examples से ज्यादा अपनी आम बोलचाल की भाषा वाले sentence बनाने पर ध्यान दें| इससे फायदा ये होगा कि आपको sentence जल्दी समझ में आएंगे और आप अपनी दैनिक लाइफ में भी इन्हें इस्तेमाल करने का प्रयास करेंगे|

# गलतियां ढूंढे

अपने sentences और pronouncation में गलतियां ढूंढने का प्रयास करें| जिन लोगों के सामने आप इंग्लिश बोल रहे हों, अगर वो आपके मित्र हैं तो आप उनसे भी अपनी गलतियों के बारे में पूछिए| अक्सर लोग दूसरों की गलत इंग्लिश का मजाक तो बनाते हैं लेकिन उनकी गलतियां नहीं बताते, इसलिए आप खुद लोगों से अपनी गलतियां पूछिए| ये मत सोचिये कि आपका मजाक बनेगा, यही सोचते रहे तो जीवन भर कभी इंग्लिश नहीं सीख पायेंगे|

# Parts of Speech सीखे

वाक्य को शुद्ध रुप से लिखने के लिए आपको parts of speech का ज्ञान होना आवश्यक है| Parts of speech से ही पता चलता है कि शब्दों को संयोजन कैसे करना है| ग्रामर में parts of speech के नियम दिए गए हैं उन्हीं का इस्तेमाल करके आपको sentence बनना सीखना है|

Part of Speech को 8 भागों में बांटा गया है –

Noun (संज्ञा) – Noun is the name of a person, place, or thing.

हिंदी अर्थ – किसी व्यक्ति, स्थान, वस्तु के नाम का बोध कराने वाले शब्द को संज्ञा कहते हैं। जैसे – राम, मोहन, उत्तर प्रदेश, कुर्सी आदि

Pronoun (सर्वनाम) – It takes the place of a noun in a sentence.

हिंदी अर्थ – संज्ञा के स्थान पर प्रयोग किये जाने वाले शब्दों को ‘सर्वनाम’ कहते हैं| जैसे – मैं, तुम, हम, वह, आप, उसका, उसकी आदि।

Adjective (विशेषण) – It describes the attribute of a noun or pronoun.

हिंदी अर्थ – Noun या Pronoun की विशेषता बताने वाले शब्दों को Adjective कहते हैं| जैसे – सीता बहुत सुन्दर लड़की है| इस वाक्य में ‘सुंदर’ शब्द सीता की विशेषता बताता है इसलिए ‘सुन्दर’ शब्द Adjective है|

Verb (क्रिया) – Verbs are the action words in a sentence that describe what the subject is doing.

हिंदी अर्थ – ऐसे शब्द जिनसे noun और pronoune के कुछ कार्य करने का बोध होता है, उन्हें Verb कहते हैं|

उदाहरण – Ram is reading a book. (राम पुस्तक पढ़ रहा है, यहाँ reading verb है)

Adverb (क्रिया विशेषण) – An adverb is a word that describes a verb, an adjective, another adverb, or even a whole sentence.

हिंदी अर्थ – ऐसे शब्द जो Verb , Adjective या दूसरे Adverb की विशेषता बताते हैं उन्हें Adverb कहा जाता है|

उदाहरण – Ram walks slowly. (राम धीमे चलता है, यहाँ slowly adverb है)

Conjunction (समुच्चयबोधक) – Conjunctions are words that combine other words, phrases, or clauses together.

हिंदी अर्थ – ऐसे शब्द जो दूसरे शब्दों और वाक्यों को जोड़ते हैं, Conjunction कहलाते हैं

उदाहरण – Sita is a good girl and she is very beautiful. (यहाँ and से दो वाक्यों को जोड़ा गया है इसलिए यहां ‘and’ Conjunction है)

Preposition (संबद्धबोधक) – Prepositions indicate relationships between other words in a sentence.

हिंदी अर्थ – ऐसे शब्द को nouns और pronouns का अन्य शब्दों से सम्बन्ध बताते हैं, उन्हें Preposition कहा जाता है

उदाहरण – Julie came from school. (यहां from शब्द Preposition है)

Interjection (विस्मयादिबोधक) – An interjection are the words that demonstrate an emotion or feeling.

हिंदी अर्थ – ऐसे शब्द जो सुख, दुःख या अन्य भावों को दर्शाते हैं उन्हें Interjection कहते हैं|

उदाहरण – Bravo! we have won the match. (यहां Bravo शब्द Interjection का कार्य कर रहा है)

# Verb की प्रैक्टिस करें

Verb को इस्तेमाल करने की प्रैक्टिस बहुत जरुरी है| विद्यार्थी सबसे ज्यादा गलतियां Verb के इस्तेमाल में ही करते हैं और verb का गलत इस्तेमाल आपके sentence के अर्थ का अनर्थ कर देगा|

verb को बारीकी से समझें और शब्दों की 1st, 2nd, and 3rd फॉर्म verb को याद करें| साधारण sentences में verb की फर्स्ट फॉर्म ही use की जाती है| लेकिन जब थोड़े कठिन sentence की ओर जाते हैं तो verb का इस्तेमाल भी जटिल होते जाता है इसलिए verb को इस्तेमाल करके की ज्यादा प्रैक्टिस आवश्यक है|

# Tense को समझें

Present, past, perfect इन सभी tences के बारे में पढ़िए| सदा और सरल वाक्यों से आगे बढ़ने के लिए आपको tense के बारे में जानना होगा| Tenses ही आपको बताते हैं कि कब कौन सी verb का इस्तेमाल करना है| वाक्य नकारात्मक है, या प्रश्नवाचक है तो किस प्रकार sentence बनेगा ये सब tense के नियम पढ़कर ही पता चलेगा|

आप चाहें तो Tense चार्ट को याद कर लें| एक बार अगर आपने tense चार्ट को समझ लिया तो समझो आपको इंग्लिश में आगे जाने से कोई रोक ही नहीं सकता| नीचे हमने tense चार्ट दिया हुआ है|

# ग्रामर के apps डाउनलोड करें

मोबाइल में ग्रामर के apps डाउनलोड कर लें| जब भी आपको कोई sentence लिखना हो तो आप इन्हीं apps का use करें| ये apps ऑटोमेटिकली आपके sentence की ग्रामर को करेक्ट कर देंगे और जब आप इन apps की मदद से लिखेंगे तो ये आपको सही verb को use करने के suggestion भी देंगे इसलिए आप मोबाइल अप्प्स का भी इस्तेमाल करें| हम यहाँ कुछ बेहतरीन ग्रामर के मोबाइल apps बता रहे हैं –

मित्रों जल्दी ही आपकी इस पसंदीदा वेबसाइट HindiSoch.Com पर इंग्लिश स्पीकिंग सिखाने के आर्टिकल्स पब्लिश किये जायेंगे| हम चाहते हैं कि इंग्लिश कभी भी आपके करियर में रूकावट का कारण ना बने| इंग्लिश बहुत ही आसान भाषा है और हम आपको इंग्लिश सिखाने के प्रयास में जरूर कामयाब होंगे, इस आत्मविश्वास के साथ हम लगातार आपको इंग्लिश सिखाने में प्रयासरत हैं|

इंग्लिश सीखने के लिए इन्हें भी पढ़ें :-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button