Scientist Stories in Hindi

  • आर्किमीडीस की कहानी Archimedes Inspirational Story in Hindi

    कभी कभी, छोटी छोटी चीज़ें, छोटे छोटे Idea जीवन में बहुत महत्व रखते हैं| इतिहास गवाह है, अनेकों बार छोटी सी सोच ने ही दुनियाँ को बदल कर रख दिया है| आर्किमीडीस की कहानी भी कुछ इसी तरह थी.. आर्किमीडीस की कहानी, आज से करीब 2000 साल पहले की है जब राजा हीएरोन ii ने एक सुनार को कुछ सोना दिया और उसे अपने लिए एक सुंदर सोने का मुकुट बनाने के लिए कहा | लेकिन सुनार बहुत धूर्त था वो सोने में चाँदी या तांबे जैसी कोई चीज़ मिला देता था| इसलिए उसने राजा के मुकुट में भी मिलावट…

    Read More »
  • कणाद का परमाणु सिद्धांत, First Atomic Theory by Kanad

    महर्षि कणाद प्राचीन भारतीय वैज्ञानिक और दार्शनिक थे, जिन्होंने सबसे पहले परमाणु सिद्धांत (Atomic Theory) की व्याख्या दी| उन्होंने परमाणु की गति, उसकी संरचना और रसानायिक प्रवर्ति पर प्रकाश डाला| कणाद के परमाणु सिद्धांत(Atomic Theory) के पीछे एक बहुत रोचक कथा है| एक बार वे जंगल में हाथ में एक फल लिए घूम रहे थे | वो धीरे धीरे हाथ में रखे फल को नाखूनों से कुरेद कुरेद कर फैंक रहे थे| लेकिन धीरे धीरे फल इतना छोटा हो गया कि कणाद फिर उसको तोड़ ही नहीं पाए| बस यही बात उनके दिमाग़ में बैठ गयी कि इस फल की…

    Read More »
  • आर्यभट्ट और ज़ीरो की खोज, Aryabhatta and Discovery of Zero in Hindi

    दुनिया के महानतम गणितज्ञ और खगोलविद “आर्यभट्ट” का जन्म पाटलिपुत्र में हुआ था, जो आज पटना के नाम से जाना जाता है| बहुत से मतों के अनुसार उनका जन्म दक्षिण भारत(केरल) में भी माना जाता है| आर्यभट्ट ने “आर्यभट्ट सिद्धांत” और “आर्यभट्टिया” नामक ग्रंथों का स्रजन किया था| उन्होंने अपने ग्रन्थ आर्यभट्टिया में गणित और खगोलविद का संग्रह किया है| इसमें उन्होंने अंकगणित, बीजगणित, सरल त्रिकोणमिति और गोलीय त्रिकोणमिति का उल्लेख किया है| इसमें उन्होंने वर्गमूल, घनमूल, सामानान्तर श्रेणी तथा विभिन्न प्रकार के समीकरणों का वर्णन भी किया है | उन्होनें ही पहली बार by= ax+ c aur by= ax-c…

    Read More »
  • कभी प्रयास करना बंद ना करें ~ छात्रों के लिए प्रेरक कहानी

    कभी प्रयास करना बंद ना करें एक बार एक Science की Research प्रयोगशाला में एक experiment किया गया। एक बड़े शीशे के टैंक में बहुत सारी छोटी छोटी मछलियाँ छोड़ी गयीं और फिर ढक्कन बंद कर दिया। अब थोड़ी देर बाद एक बड़ी शार्क मछली को भी टैंक में छोड़ा गया लेकिन शार्क और छोटी मछलियों के बीच में एक काँच की दीवार बनायी गयी ताकि वो एक दूसरे से दूर रहें। शार्क मछली की एक खासियत होती है कि वो छोटी छोटी मछलियों को खा जाती है। अब जैसे ही शार्क को छोटी मछलियाँ दिखाई दीं वो झपट कर…

    Read More »
  • आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है, Need is the Mother of Invention

    कहा जाता है की आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है, और कनाडा के एक फिल्ममेकर रॉब स्पेंस ने इस तथ्य को सिद्ध कर दिया| रॉब बचपन से ही विलक्षण प्रतिभा के धनी थे उन्हे शूटिंग करने का बहुत शौक था| किशोरावस्था में एक बार शूटिंग के दौरान एक कठिन स्टंट में उनकी आँख में चोट लग गयी| और नतीज़ा ये हुआ की इन्हें अपनी दाँयी आँख से हाथ धोना पड़ा| रॉब की एक आँख खराब होने के कारण खुद को हीन महसूस करते थे| बस उनकी यही हीनभावना और मेहनत ने उन्हें बहुत बड़ा वैज्ञानिक बना दिया| रॉब ने एक…

    Read More »
  • Soichiro Honda Success Story आवश्यकता ही आविष्कार की कुंजी है

    Success Story of Soichiro Honda in Hindi आवश्यकता ही आविष्कार की कुंजी है, ये कथन जापान के 22 वर्षीय नवयुवक सोइचिरो होंडा पर सटीक बैठती है| Automobile में इंजिनियरिंग करने के बाद वह नौकरी की तलाश कर रहे थे पर भाग्य कहीं भी साथ नहीं दे रहा था और एक छोटी सी नौकरी के लिए उन्हें दर दर भटकना पड़ रहा था| परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी और पूरा भार उन्हीं के कंधों पर था| बहुत सारी कंपनियों ने उन्हें रिजेक्ट किया जिनमें से “Toyota Motor” भी एक थी| बहुत संघर्ष के बाद एक मोटर मेकॅनिक की जॉब…

    Read More »
  • सर आइज़क न्यूटन – असाधारण प्रतिभा का धनी एक शख्स जिसने बदल डाली दुनिया

    वैज्ञानिक आइज़क न्यूटन का जीवन Isaac Newton Biography in Hindi जब हम बचपन में विज्ञान पढ़ना शुरू करते हैं तो सबसे पहले जिस वैज्ञानिक का नाम आता है, वो हैं – न्यूटन(Newton)। यूँ तो दुनियां में बहुत से लोग जन्म लेते हैं लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं जो हमेशा हमेशा के लिए अपना नाम स्वर्णिम अक्षरों में लिख जाते हैं। जब तक इस धरती पे विज्ञान रहेगा तब तक “सर आइज़क न्यूटन(Sir Isaac Newton)” का नाम लिया जाता रहेगा। मैं खुद हमेशा से उनके जैसा बनना चाहता हूँ, मेरी ये दिली इच्छा है कि न्यूटन जैसा वैज्ञानिक बनूँ। मैं…

    Read More »
Close