नवरात्रि कब है 2017 में | Navratri Kab Hai & Navratri Date with Calendar

2017 में नवरात्रि कब है और नवरात्रि का पूजन कैसे करें, Navratri Kab Hai, Navratri Kab Se Hai, Navratri Kab Se Shuru Hai, Navratri Kab Se Start Hai, Durga Puja Kab Hai यहाँ आपको नवरात्रि के बारे में कैलेंडर सहित सम्पूर्ण जानकारी दी जायेगी|

भारत त्यौहारों का देश है, यहाँ हर माह कोई ना कोई त्यौहार जरूर आता है या यूँ कहिये हमारे देश में हर दिन कोई ना कोई त्यौहार अवश्य होता है| नवरात्रि का पर्व भी भारत के प्रमुख पर्वों में से एक है| नवरात्रि पूजा पूरे भारत वर्ष में बड़े धूमधाम से मनाई जाती है|

हमारे हिन्दू धर्म के अनुसार एक वर्ष में 4 नवरात्रि होती हैं –

1. पहली नवरात्रि चैत्र माह में होती है
2. दूसरी नवरात्रि आसाढ़ माह में होती है
3. तीसरी नवरात्रि अश्विन माह में होती है
4. अंतिम नवरात्रि माघ के महीने में होती है

इन चार नवरात्रियों में से पहली और तीसरी नवरात्रि सबसे प्रमुख हैं| चैत्र और अश्विन माह में आने वाली नवरात्रियाँ सबसे विशेष होती हैं और खासकर यही दोनों नवरात्रि हम लोग मनाते हैं|

चैत्र माह में आने वाली नवरात्रि को “वासंती नवरात्रि” भी कहा जाता है क्यूंकि इस समय बसंत ऋतू का मौसम होता है| अश्विन माह में आने वाली नवरात्रि को “शारदीय नवरात्रि” कहा जाता है क्यूंकि इस समय शरद ऋतू का आगमन हो चुका होता है|

आसाढ़ और माघ के महीने में आने वाली नवरात्रि को “गुप्त नवरात्रि” कहा जाता है| इन नवरात्रि के विषय में लोगों को अधिक ज्ञान नहीं होता इसीलिए इन्हें गुप्त नवरात्रि कहा जाता है| इस समय तंत्र मन्त्र और गुप्त सिद्धियाँ प्राप्त करने वाले साधक सक्रीय हो जाते हैं क्यूंकि गुप्त नवरात्रि का समय तंत्र सिद्धि व चमत्कारी शक्तियों की प्राप्ति के लिए विशेष होता है|

सबसे विशेष नवरात्रि अश्विन माह वाली होती है| यह नवरात्रि दशहरा पर्व के ठीक पहले आती है और दशहरे के दिन ही नवरात्रि का व्रत सम्पूर्ण होता है| इसलिए इस नवरात्रि को “महानवरात्र” के नाम से भी जाना जाता है|

रामायण में श्री राम, दुष्ट रावण का वध करने से पहले आदिशक्ति दुर्गा की उपासना करते हैं| माँ दुर्गा प्रकट होकर श्री राम को विजय श्री का आशीर्वाद देती हैं| इसीलिए इस माह में दशहरे से पहले मनाई जाती हैं और माँ दुर्गा की पूजा की जाती है|

2017 में नवरात्रि कब है –

जैसा कि हमने पहले भी बताया कि चैत्र और अश्विन माह की नवरात्रियाँ ही प्रमुख नवरात्रि हैं इसलिए हम इन्हीं नवरात्रिओं की तारीख आपको बता रहे हैं –

चैत्र (वासंती) नवरात्र = 28 मार्च से 5 अप्रैल
आश्विन (शारदीय) महानवरात्र = 21 से 30 सितंबर

नवरात्रि कब है – तिथि व कैलेंडर 2017 –

Navratri Calendar for 2017
Navratri Calendar for 2017

अर्थात 21 सितम्बर से नवरात्रि शुरू हो रही हैं और 30 सिंतम्बर तक नवरात्रि का महापर्व मनाया जायेगा|

नवरात्रि के समय पूरा वातावरण भक्तिमय हो जाता है और सभी जगह माँ दुर्गा के जयकारे सुनने को मिलते हैं| आदिशक्ति माँ दुर्गा, शिव जी की पत्नी पार्वती का ही एक रूप हैं| जब राक्षसों ने समस्त देवताओं को परास्त करके स्वर्ग पर चढ़ाई कर दी थी| तब सभी देवताओं ने अपनी शक्तियों का आह्वान किया और सभी देवताओं की शक्ति से माँ दुर्गा का स्वरूप तैयार हुआ|

माँ दुर्गा के नौ रूप हैं जिनका नाम क्रमशः मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कुष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्रि है| नवरात्रि में माँ दुर्गा के इन नौ रूपों की पूजा की जाती है| नौ दिनों तक पूरी श्रद्धा से माँ दुर्गा और उनके नौ रूपों की पूजा करें| घर में अगर छोटी कन्यायें हैं तो उनकी भी पूजा करें उनको भोजन करायें क्यूंकि कन्याओं को माँ दुर्गा का रूप माना गया है|

नवदुर्गा की पूजा संपन्न होने के पश्चात् दशहरा का पर्व मनाया जायेगा|

इस नवरात्रि माँ दुर्गा आपके जीवन को खुशियों से भर दें ऐसी ही हमारी कामना है|

आप सभी के लिए नवरात्रि मंगलमय हो| जय माँ दुर्गा।।

ये भी पढ़ें-
नवरात्रि की शुभकामनायें चित्र सहित
नवरात्रि का महत्व
माँ दुर्गा के चित्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

2 Comments

  1. यह मूल्यवान पोस्ट हम तक शेयर करने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

Close