जिंदगी बदलने वाली कहानियां=>यहाँ क्लिक करें

कैसे इस होली को बनायें सबसे यादगार होली?

बुरा ना मानो – “होली है”, होली त्यौहार ही ऐसा है जिसमें बुरा मानने वाली कोई बात ही नहीं है। इस दिन भरपूर मस्ती और भरपूर हुड़दंग देखने को मिलता है। इस दिन केवल रंग ही रंगीन नहीं होते बल्कि लोग भी रंगीन हो जाते हैं। पूरा वातावरण ही रंगों से भरा पूरा दिखाई देता है।

Top-50-Happy-Holi-2016-Sms-Messages-Wishes

चलिए भूल जाएँ पुरानी बातें –

जुम्मन मियां और बिल्लू चौधरी की दोस्ती दूर दूर तक मशहूर थी। दोनों बचपन से ही पक्के दोस्त थे, जब तक छोटे थे साथ में खूब मस्ती करते थे। अब बड़े क्या हुए, कुछ ज्यादा ही समझदार हो गए और एक दूसरे से दुश्मनी कर बैठे। अब दोनों ही एक दूसरे का चेहरा तक देखना पसंद नहीं करते थे।

होली का दिन था, बिल्लू चौधरी पूरी मस्ती में दोस्तों के साथ होली पर हुड़दंग कर रहे थे। चेहरा रंग लगा लगा के ऐसा हो गया था कि जोकर को भी हंसी आ जाये। इसी मस्ती में गीत गुनगुनाते पूरे गांंव में टोली बना के घूम रहे थे। जुम्मन मियां के घर के पास से गुजरे ही थे कि रंगों से लिपटे चौधरी को जुम्मन मियां पहचान नहीं पाये और जोकर जैसा चेहरा देखकर खिल खिला के हंस दिए। बिल्लू चौधरी ने मुट्ठी भरके रंग जुम्मन मियां के चेहरे पर भी लगा दिया अब तो उनका चेहरा भी रंगीन हो गया। दोनों एक दूसरे को देखकर इतनी जोर से हँसे कि पल भर के लिए सारी दुश्मनी भूल गए। बिल्लू चौधरी ने आगे बढ़कर प्यार से जुम्मन को गले से लगाया। दोनों की दोस्ती एक बार फिर रंगों से भर चुकी थी।

भई होली का त्यौहार ही ऐसा है। आपसी मिलन का त्यौहार, जीवन में रंग भरने का त्यौहार, बुराइयां मिटाने का त्यौहार……………………….

चेहरे पर नहीं दिलों पर रंग लगाएं – इस होली पर आप एक दूसरे से मिलें और सारे गिले शिकवे भूलकर सौहार्द से मिलें। लेकिन इस बार केवल चेहरे पर ही रंग ना लगाएं बल्कि इस बार दिलों पर रंग लगाएं।

और ऐसा गाढ़ा रंग लगाएं कि फिर से बुराई का रंग ना लग सके
ऐसा रंग लगाएं कि फिर से कभी ईर्ष्या का रंग ना लग सके
ऐसा रंग लगाएं कि सारा जीवन रंगों से भरा नजर आये
ऐसा रंग लगाएं कि जीवन में दुखों का रंग ना लग सके
ऐसा रंग लगाएं कि केवल खुशियों के रंग ही नजर आएं

गुँजियां की मिठास में खो जाइये – गुँजियां तो होली की मुख्य मिठाई होती है। क्या बच्चे, क्या जवान और क्या बूढ़े, गुँजियां को सबकी फेवरेट मिठाइयों में आती है। और पसंदीदा हो भी क्यों ना, केवल होली के मौसम में ही खाने को जो मिलती है। इस बार खूब गुँजियां खाइये और अपने दिल को मीठा बनाइये।

दिल को इतना मीठा बनाइये कि आपका व्यवहार भी मीठा हो जाये
दिल को इतना मीठा बनाइये कि आपकी बोली भी मीठी हो जाये
दिल को इतना मीठा बनाइये कि आपके विचार भी मीठे हो जाएँ
दिल को इतना मीठा बनाइये कि आपके हर सम्बन्धों में मिठास आ जाये।

इस तरह से आप अपनी होली को सबसे यादगार होली बना सकते हैं। मेरी तरफ से आपको होली की बहुत बहुत शुभकामनायें……………. 🙂

और केवल मेरी शुभकामनाओं से काम नहीं बनेगा। नीचे कॉमेंट बॉक्स में जाएँ और मुझे एवं अपने सभी प्रिय लोगों को होली की शुभकामना दें। कमेंट में जाकर आप कैसे होली मनाएंगे ये भी लिखें और सबको होली की शुभकामना जरूर दें, हमें आपके कॉमेंट्स का इंतजार है। धन्यवाद!!!!!!!!

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 Comments

  1. Gita
  2. chenaksh dhomane
  3. shiv yadav
  4. Hinglishpedia
  5. Hinglishpedia
  6. Sanjit xetry
  7. Nikeeta
  8. Indrajeet Thakur