जिंदगी बदलने वाली कहानियां=>यहाँ क्लिक करें

मधुक्खियों से जुड़े मजेदार रोचक तथ्य Honey Bee Facts in Hindi

Bee Facts in Hindi

शहद बड़ा ही स्वादिष्ट और शरीर के लिए लाभकारी भी होता है। और शहद तो आपमें से कई लोगों का फेवरेट भी होगा और हो भी क्यों ना वो चीज़ ही ऐसी है। शहद कई दवाइयों तक में प्रयोग किया जाता है। इस शहद को बनाने वाली हैं – “मधुमक्खियां”

honeybee
दुनिया भर में मधुमक्खियों की बहुत सारी प्रजातियां पायी जाती हैं लेकिन सभी मधुमक्खियां शहद नहीं देतीं। आज हम आपको मधुमक्खियों से जुडी कुछ मजेदार बातें बतायेंगे जो वाकई में बड़ी विचित्र हैं –

1. मधुमक्खी की आखों में हजारों लेंस लगे होते हैं

2. मधुमक्खी एक सेकेण्ड में 200 से ज्यादा बार पंख फड़फड़ाती है

3. एक चम्मच शहद के लिए मधुमक्खी को हजारों फूलों का रास इकठ्ठा करना पड़ता है

4. मधुमक्खी के छत्ते में 30 से 60 हजार मधुमक्खियां रहती हैं

5. मधुमक्खियों की 20 हजार से ज्यादा प्रजातियां पायी जाती हैं

6. सभी मधुमक्खियां शहद नहीं बनातीं और नाही सभी डंक मारतीं

7. मधुक्खियां एक छत्ते से दूसरे छत्ते तक एक दूसरे की जानकारियां पहुँचाती हैं

8. केवल मादा मधुमक्खी ही डंक मारती है नर नहीं

9. एक छत्ते में मौजूद 60 हजार मधुमक्खियां गर्मियों में रोजाना एक हजार पांच सौ अंडे देती हैं

10. शहद अकेला ऐसा खाद्य पदार्थ है जो सैकड़ों सालों तक खराब नहीं होता

11. एक छत्ते से एक साल में करीब सात आठ किलो शहद दो बार निकाला जा सकता है

12. एक सामान्य मधुमक्खी का जीवन 45 दिन होता है

13. हर छत्ते में 99% मादा मधुमक्खियां होती हैं

14. नर मक्खी का काम केवल रानी मधुमक्खी के साथ मिलकर गर्भाधान करना है

15. कई नर मधुमक्खी भी गर्भाधान का प्रयास करती हैं लेकिन इसमें केवल कुछ ही सफल हो पाती हैं

16. मधुमक्खी अकेली ऐसी जीव है जिसका बनाया हुआ खाद्य पदार्थ इंसान खाता है…

17. नवजात शिशुओं को शहद नहीं खिलाना चाहिए कई बार लकवा मारने के भी चांस होते हैं

18. प्राचीन काल में रानियां जवान दिखने के लिये दूध व शहद का सेवन करती थीं

19. गर्म दूध में शहद मिलाकर पीने से ये औषधि का काम करता है

20. रानी मक्खी अपने बाद अपना सारा दायित्व अपनी बेटी को देकर जाती है लेकिन श्रमिक मक्खियों को ये सब कुबूल नहीं होता और कई बार श्रमिक मक्खियां खुद अपना प्रजनन कर लेती हैं और रानी मक्खी बन जाती हैं…

अगर आप चाहते हैं कि ये ज्ञान की बातें प्रतिदिन आपके ईमेल पर भेज दी जाएँ तो आप हमारा ईमेल सब्क्रिप्शन ले सकते हैं इसके बाद आपको सभी नयी कहानियां ईमेल कर दी जाएँगी- Subscribe करने के लिए यहाँ क्लिक करें

loading...

सभी पोस्ट ईमेल पर पाने के लिए अभी Subscribe करें :

सब्क्रिप्सन फ्री है

***** समस्त हिन्दी कहानियों का सॅंग्रह ज़रूर पढ़ें ******

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

One Response

  1. Nikhil Jain