जिंदगी बदलने वाली कहानियां=>यहाँ क्लिक करें

घर के गैराज से दुनिया की सबसे बड़ी E-commerce कंपनी Amazon बनाने तक का सफर

Amazon Founder Jeff Bezos Success Story in Hindi

आज हम बात कर रहे हैं, दुनिया की सबसे बड़ी E-commerce कंपनी Amazon.com के बारे में जो कि आज के समय में दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे ज्यादा भरोसे वाली Online Shopping Website है|

Jeff Bezos Success Quotes in Hindi

जिसे Jeff Bezos ने शुरू किया था, आज के समय में Jeff Bezos दुनिया के सबसे Rich Persons में से एक हैं, उनकी Net Worth 125+ Billion Dollar है| Jeff ने amazon को शरू कर के Shopping करने का तरीका ही बदल दिया। Amazon कंपनी अमेरिका की है और इसका Head Office भी USA में ही है तो दोस्तों चलिए Amazon की Success Story को शरू से जानते हैं –

तो कहानी की शुरुआत होती है, जब 12 January,1964 में Mexico (USA) Jeff Bezos का जन्म हुआ था तो उनकी माँ 17 साल की थी और पढ़ाई करती थी और उनके पिता 18 महीने की कम उम्र में उनको और उनकी माँ को छोड़ कर चले गये और फिर कुछ दिनों तक उनकी माँ ने उनको अकेले ही पाला| जब Jeff 4 साल के हुए तो उनकी माँ ने मगुआल बेज़ोस नाम के आदमी से शादी कर ली, उस दिन के बाद उनका सरनेम Bezos हो गया।

फिर शादी करने के बाद उनका पूरा परिवार ह्यूस्टन शिफ्ट हो गया, वहाँ पर उनके पिता ने इंजीनियर के पद पर काम किया और Jeff के अंदर बचपन से ही चीजों को खोलकर देखने का शौक था, इसलिए Jeff चीज़ों को बार-बार खोलकर देखते थे कि कोई कभी चीज़ काम कैसे करती है?

Jeff ने RIVER OAKS ELEMENTARY SCHOOL से अपनी शुरुआती पढ़ाई की और वे अपनी छुट्टियाँ अपने नाना के घर बिताते थे| समय आगे बढ़ता गया, बचपन मे Jeff ने अपने भाई-बहन से बचने के लिए एक Electric अलार्म भी बनाया ताकि कोई कमरे में आए तो Jeff को पता चल जाए|

आगे चल कर उनका परिवार मिआमि शहर में शिफ्ट हो गया, जहाँ Jeff ने PALMETTO HIGH SCHOOL में पढाई शुरू की| दोस्तो Jeff को हमेशा इंटेलिजेंट स्टूडेंट में गिना जाता था।

आगे चलकर उन्होंने PRINGSTON UNIVERCITY से Computer Science में डिग्री ली और फिर उन्होंने आगे चल कर Wall Street में भी काम किया, फिर उन्होंने और भी कई कंपनियों में काम किया और फिर उन्होंने सोचा कि वे कब तक दूसरों का काम करते रहेंगे|

उन्होंने अपना Business करने की सोची और फिर उन्होंने America का रुख किया और लोगों की डिमांड को समझा और फिर उन्होंने जाना कि आने वाले समय मे Online Business की डिमांड बहुत अधिक बढ़ने वाली है तो इसी field में business शरू किया जाये तो शायद आगे चल कर profitable होगा।

एक बार फिर 1994 में उन्होंने अपनी अच्छी खासी नौकरी को छोड़ दिया और फिर उन्होंने अपने घर के गैराज से अपनी online कंपनी की शरुआत की और इसकी शुरुआत किताबें बेचने से शरू हुई और उन्होंने ऐसा इसलिए सोचा क्योंकि किताबे Jeff को बहुत पसंद थी| उन्होंने 3 computer और कुछ कर्मचारियों के साथ कंपनी की शरुआत की|

Jeff के माता-पिता ने उनकी खूब हेल्प की हालांकि Jeff का Business modal उनके माता-पिता को समझ नहीं आ रहा था क्योंकि वे internet के बारे में नहीं जानते थे।

Jeff ने कंपनी का शुरुआती नाम CADABRA रखा और फिर उन्होंने आगे चल कर उसका नाम बदल कर Relentless.com रखा| लेकिन कंपनी का ये नाम उनके दोस्तों को पसंद नहीं आया और फिर 1995 में इसका नाम बदल कर Amazon.com कर दिया गया

2 महीनों में Amazon ने 45 से अधिक देशों में किताबें बेच दीं, ये amazon की सफलता की पहली सीढ़ी थी और उनके हर हफ्ते की बिक्री 20000$ पहुँच गयी और यही वो समय था जब Jeff और उनकी कंपनी Amazon ज़मीन से आसमान तक की ऊंचाइयों पर पहुँच गयी|

आगे चल कर इस पर हर तरह का समान बेचा जाने लगा और इसी तरह Amazon दुनिया की सबसे बड़ी online shopping कंपनी बन गई और amazon की आज के समय में काफी services है जैसे:- Kindle, Amazon Prime, Amazon Mechanical Turk etc. और amazon कंपनी की वजह से आज Jeff दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक बन गए हैं तो दोस्तो अपने देखा कैसे Jeff ने एक सपना देखा और उसको पूरा कर के दिखाया|

उम्मीद है आपको Amazon.com के Co-Founder Jeff Bezos की Success स्टोरी अच्छी लगी होगी, अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो please अपने दोस्तों के साथ ज़रूर share करे ताकि इस interesting स्टोरी को सभी जान सके और उनको भी इससे मोटिवेशन मिल सके।

(यह Article इंटरनेट पर हमारी रिसर्च के आधार पर लिखा गया है)

अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!!

अमेजन और उसके फॉउंडर जेफ़ बेजोस की सफलता की यह कहानी हमें नितिन शर्मा जी ने भेजी है| नितिन शर्मा जी की वेबसाइट http://www.successstoryhindi.com है जहाँ पर वह मोटिवेशनल कहानियां और विचार प्रकाशित करते हैं| इस प्रशंशनीय लेख के लिए नितिन जी का दिल से धन्यवाद!!

ये प्रेरक कहानियां भी जरुर पढ़ें –
अपनी विफलताओं से सीखो
जूनून हो तो सफलता जरूर मिलती है
संगति का असर
कैसे बनें अमीर
सफलता का रहस्य
लक्ष्य- सफलता का सूत्र