जिंदगी बदलने वाली कहानियां=>यहाँ क्लिक करें

एक सलाह सफल होने के लिए Advice for Successful Life


Successful Life Tips

कुछ दिन पहले हिंदीसोच पर किसी व्यक्ति का एक ईमेल आया था। मैंने उस मेल को गंभीरता से पढ़ा उसमें लिखा था –

“श्री मान, मैं हिंदीसोच का पाठक हूँ, मैं बहुत सारी मोटिवेशनल कहानियां पढता हूँ, उन्हें पढ़कर बहुत अच्छा लगता है। मैंने और भी बहुत सारी प्रेरक पुस्तकें पढ़ी हैं लेकिन मैं इतना मोटिवेशन पढ़ने के बावजूद भी खुद को सफल महसूस नहीं करता। मैं कई बार नए लक्ष्य बनाता हूँ लेकिन हमेशा किसी ना किसी कारण से अपने लक्ष्य पूरा नहीं कर पाता। मैं अच्छी संगति में रहता हूँ अच्छी पुस्तकें पढता हूँ लेकिन फिर भी मैं सफल क्यों नहीं हो पा रहा हूँ? मैंने सुना है कि अच्छी संगति इंसान की प्रगति में सहायक होती है लेकिन मेरे साथ ऐसा क्यों नहीं होता है?”

मैं अपने इन मित्र को छोटी सी सलाह देना चाहता हूँ – The way to success

मित्र केवल अच्छी संगति रखने से ही सब कुछ नहीं होता, आप जो पढ़ते हैं, किताबों में पढ़कर जो सीखते हैं उसे अपने व्यवहार में लाइए। कहानियों की प्रेरणा को अपने दैनिक जीवन में इस्तेमाल करिये।

सोचिये अगर केवल संगति से ही सारी अच्छाइयां आ जातीं तो गन्ने के साथ साथ उगने वाले पौधों में भी मीठा रस क्यों नहीं होता??

केवल अच्छी संगति रखने से ही कोई व्यक्ति विद्वान या साधु नहीं बन जाता। संगत से सकारात्मक बातें सीखकर उन्हें अपने जीवन में व्यावहारिक रूप से उतारने पर ही संगत की सार्थकता होगी अन्यथा सब मरघटिया वैराग्य ही साबित होगा।

गन्ने ने खुद में धरती से रस खींचकर खुद को मीठा बना लेने की क्षमता विकसित कर ली हुई है इसलिये वह मीठा बन जाता है परन्तु उसके साथ ही उगनेवाली घास-फूस एवँ अन्य झाड़ियाँ रूखी ही रह जाती हैं….!! क्यूंकि वह उसके साथ रहकर भी उसकी अच्छाइयां नहीं सीख पायीं।

अच्छी संगति केवल आपके व्यवहार में बदलाव ला सकती है। असली काम तो आपको खुद ही करना होता है, आप अपने मन को एकाग्रचित करके अपने जीवन को नकारात्मकता से सकारात्मकता की ओर ले जा सकते हैं, नहीं तो आप के लिए अच्छी संगत का कोई तात्पर्य ही नहीं है- फिर तो आपने केवल प्रवचन को सुना है, गुणा नहीं है। यदि आप गुण लेते हो तो जीवन में गन्ने के रस से भी ज्यादा मिठास होगी, वरना कडवाहट की तो कोई कमी है ही नहीं।

तो दोस्तों अच्छी संगति रहना, अच्छी किताबें पढ़ना निश्चित ही आपकी सफलता में सहायक सिद्ध होगा लेकिन आपको इनसे मिली शिक्षा को अपने जीवन में उतारना होगा, तभी संगति का फायदा होगा!!!!!!

loading...

सभी पोस्ट ईमेल पर पाने के लिए अभी Subscribe करें :

सब्क्रिप्सन फ्री है

***** समस्त हिन्दी कहानियों का सॅंग्रह ज़रूर पढ़ें ******

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

23 Comments

  1. Gourav February 12, 2016
  2. Pranjal Agarwal February 13, 2016
  3. Rishahbh Sah February 13, 2016
  4. Kind Hearted February 13, 2016
  5. vijay February 14, 2016
  6. Navin Kumar Roy February 16, 2016
  7. vishu March 5, 2016
  8. ajay bhargava March 10, 2016
  9. RAJU CHOUDHURY March 21, 2016
  10. Amiy agrawal April 15, 2016
  11. SHANU MISHRA April 26, 2016
    • Pawan Kumar April 27, 2016
  12. Pranjul Singh May 5, 2016
    • Pawan Kumar May 6, 2016
  13. Monolisha pradhan May 18, 2016
  14. shilpa singh June 12, 2016
    • Pawan Kumar June 12, 2016
  15. Mohit June 13, 2016
  16. Vinayak mohan jha June 22, 2016
  17. सोनू June 24, 2016
  18. Rajeev August 22, 2016
  19. altamas October 23, 2016
  20. Rohit Pandey November 15, 2016