जिंदगी बदलने वाली कहानियां=>यहाँ क्लिक करें

2017 Independence Day Quotes in Hindi स्वतन्त्रता दिवस की शुभकामनायें

15 August Our Independence Day Quotes in Hindi

ना सर झुका है कभी
और ना झुकायेंगे कभी
जो अपने दम पे जियो असल में जिंदगी है वही

15 अगस्त एक ऐसा दिन है जो हमें आजादी की याद दिलाता है और उन शहीदों की याद दिलाता है जिन्होंने इस देश के लिए अपना घर, अपना परिवार एवं अपनी जिंदगी सब कुर्बान कर दिया

आओ देश का सम्मान करें शहीदों की शहादत याद करें
एक बार फिर से राष्ट्र की कमान
हिंदुस्तानी अपने हाथ धरें
आओ स्वतंत्रता दिवस का मान करें

आजादी की कभी शाम ना होने देंगे
शहीदों की कुर्बानी बदनाम ना होने देंगे
बची है जो 1 भी बूंद लहू की तब तक
भारत का आँचल नीलाम ना होने देंगे

भारत माता तेरी गाथा
सबसे ऊँची तेरी शान
तेरे आगे शीश झुकाएं
दें तुझको हम सब सम्मान

independence-day-quotes-in-hindi-proud-to-be-indian

दे सलामी इस तिरंगे को
जिससे तेरी शान है
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका
जब तक दिल में जान है

आजादी का जोश कभी कम नहीं होने देंगें
जब भी जरुरत पड़ी देश के लिए जान लुटा देंगे
क्योंकि भारत हमारा देश है
अब दोबारा इस पर कभी आंच नहीं आने देंगे

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें
शहीदों के दिल में थी वो ज्वाला याद कर लें
जिसमें बहकर आजादी पहुंची थी किनारे
देश भक्तों के खून की वो धारा याद कर लें

चलो फिर से खुद को जागते हैं
अनुशासन का डंडा फिर घुमाते हैं
सुनहरा रंग है शहीदों के लहू से
ऐसे शहीदों को हम सब सर झुकाते हैं

अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नहीं
सर कटा सकते हैं लेकिन सर झुका सकते नहीं

Happy Independence Day Wishes in Hindi

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा
हम बुलबुले हैं इसकी ये गुलसिता हमारा

मझहब नही सीखाता आपस मे बैर रखना
हिन्दी हैं हम वतन है हिन्दोस्तान हमारा

हम आजादी तभी पाते हैं
जब अपने जीवित रहने के अधिकार का पूरा मूल्य चुका देते हैं – रवींद्र नाथ टैगोर

तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूँगा – नेताजी सुभाष चंद्र बोस

जो लोग दूसरों को आजादी नहीं देते, उन्हें खुद भी इसका हक नहीं होता – अब्राहम लिंकन

किसी भी कीमत पर स्वतंत्रता का मोल नहीं किया जा सकता| वह जीवन है| भला जीने के लिए कोई क्या मोल नहीं चुकाएगा? – महात्मा गाँधी

ना पूछो ज़माने से क्या हमारी कहानी है
हमारी पहचान तो ये है कि हम हिंदुस्तानी हैं

जो अब तक ना खौला
खून नहीं पानी है
जो देश के काम ना आये
वो बेकार जवानी है

जो भरा नहीं है भावों से
बहती जिसमें रसधार नहीं
वह हृदय नहीं वो पत्थर है
जिसमें स्वदेश का प्यार नहीं

संस्कृति और संस्कार की शान मिले ऐसे
हिंदू, मुस्लमान और हिंदुस्तान मिले ऐसे
हम मिलजुल कर रहे ऐसे कि
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे

मैं हनुमान हूँ इसका
ये मेरे श्री राम हैं
छाती चीरकर देख लो
अंदर बैठा हिंदुस्तान है

मैं चैन ओ अमन पसंद करता हूँ, मेरे देश में दंगा रहने दो
लाल हरे में मत बांटो, मेरी छत पे तिरंगा रहने दो

ये मत पूछो की वतन ने तुमको क्या दिया ?
ये सोचो कि तुमने वतन के लिए क्या किया ?

ये अगस्त ही वो महीना है तो आजादी की याद दिलाता है
उन देशभक्तों की याद दिलाता है
जो देश के लिए घर परिवार सब छोड़कर
बलिदान हो गये
जय हिन्द….

कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक,
हिंदुस्तानी एक हैं

दोस्तों आजादी की इस पावन वेला पर मैं चाहूंगा कि सभी लोग कमेंट में जय हिन्द जरूर लिखें। धन्यवाद!!!!

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 5 =

6 Comments

  1. vikas